lightinvillage_

उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे मोहनलालगंज के केसरीखेड़ा और त्रिलोकपुर में आजादी के 70 सालों बाद पहली बार बिजली पहुंची। ऐसे में वहां के निवासियों की खुशी देखने लायक थी। बुधवार को पूरे गांव में जश्न का माहौल था।

ग्रामीणों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर मुंह मीठा किया। स्थानीय विधायक चंद्रारावत ने शाम को गांव पहुंचकर बल्ब जलाया। बिजली पहुंचने के बाद कई लोगों ने घर में पैक रखे बिजली के उपकरण निकाल लिए। अधिशासी अभियंता आरके मिश्रा ने बताया कि कुल 46 लोगों ने कनेक्शन के लिये आवेदन किया है।

ग्रामीण सत्यनरायन की पुत्री सरिता को 2012 में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लैपटॉप दिया था। मगर, बिजली नहीं होने के कारण उसका लैपटॉप अलमारी में बंद पड़ा था। बिजली आते ही सरिता ने आलमारी से लैपटॉप बाहर निकाला।

वहीं, केसरीखेड़ा में बहू बनकर 2014 में आई सपना सिंह को शादी के बाद उपहार के रूप में टीवी, फ्रिज, कूलर सहित बिजली के कई उपकरण मिले थे। मगर, गांव में बिजली न होने के कारण सामान पैक रखा था। अब गांव में ब‍िजली आने के बाद सपना उनका उपयोग कर सकेगी।

UP के इन दो गांव में आज़ादी के 70 वर्षों बाद पहुंची बिजली

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-