tata-shares-fall_20161027_105146_27_10_2016

मुंबई। टाटा संस से साइरस मिस्त्री की विदाई के बाद ग्रुप की कंपनियों के शेयर में गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही है। गुरुवार को भी ग्रुप की टॉप कंपनियां टॉप लूजर की श्रेणी में शामिल हैं। गुरुवार के कारोबारी सत्र में शुरूआती मिनटों में टाटा स्टील (2.58 फीसदी), टाटा पावर (3.03 फीसद) और टाटा मोटर्स (3.29 फीसद) समेत तमाम कंपनियों में बिकवाली देखने को मिल रही है। बीते दो दिनों में ग्रुप की टॉप पांच कंपनियों में निवेशकों के 19400 करोड़ रुपए डूब चुके हैं।

एक्सपर्ट्स का मानना है कि ग्रुप की कंपनियों में यह गिरावट साइरस मिस्त्री की ओर से बुधवार को दिए गए बयान का असर है। मिस्त्री ने बुधवार शाम को यह कहा था कि ग्रुप की कंपनियों की खराब हालत के कारण 1800 करोड़ डॉलर का नुकसान होने की आशंका है। इसके बाद बाजार नियामक सेबी और दोनों प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज की ओर से टाटा ग्रुप से इस बयान पर सफाई मांगी गई है। गौरतलब है सोमवार को टाटा संस की बोर्ड बैठक में चेयरमैन साइरस मिस्त्री को हटा दिया गया था।

टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटाए जाने के ठीक दो दिन बाद साइरस मिस्त्री ने यह बयान दिया कि चाय से लेकर सॉफ्टवेयर तक बनाने वाली कंपनी को 1800 करोड़ डॉलर का नुकसान उठाना पड़ सकता है। उन्होनें यह भी कहा कि ग्रुप की पांच कंपनियां घाटे में चल रही हैं। इसके बाद नेशनल स्टॉक एक्सचेंज और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने ग्रुप की शेयर बाजार ने सूचीबद्ध कंपनियों के संबंध में स्पष्टीकरण मांगा है। साथ ही बाजार नियामक सेबी की ओर से यह बयान आया है कि वह भी इस पूरे मामले में अपनी नजर बनाए हुए है।

बीते दो दिनो में कंपनियों के शेयरों में आई गिरावट के दौरान निवेशकों को भारी नुकसान हुआ है। टॉप पांच कंपनियों में कंपनियों के 19400 करोड़ रुपए डूब गए। टीसीएस के बाजार पूंजीकरण में 6059 करोड़ रुपए की कमी आई, वहीं टाटा मोटर्स 9610 करोड़ रुपए, टाटा स्टील 2640 करोड़ रुपए, टाइटन में 244 करो़ड़ रुपए और टाटा पावर में 811 करोड़ रुपए की मार्केट कैप का नुकसान हुआ। टाटा ग्रुप की बाजार में कुल 17 कंपनियां लिस्टेड हैं। गुरुवार के सत्र में भी ग्रुप की टॉप कंपनियां टॉप लूजर में शामिल हैं।

 

 

 

 

 

TATA के शेयरों में तीसरे दिन भी गिरावट जारी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-