भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक समीक्षा की दो दिवसीय बैठक मंगलवार को शुरू हो गई है। आम बजट पेश होने के ठीक एक हफ्ते बाद हो रही इस बैठक में नीतिगत ब्याज दरों में कटौती का फैसला लिया जा सकता है। माना जा रहा है कि आरबीआई रेपो रेट के चौथाई फीसद कम कर सकता है। मौजूदा समय में रेपो रेट 6.25 फीसद और सीआरआर (कैश रिजर्व रेशियो) 4 फीसद है।

वैश्विक वित्तीय सेवा प्रदाता कंपनी नोमुरा की एक रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि भारतीय रिजर्व बैंक नीतिगत ब्याज दरों में चौथाई फीसद (0.25 फीसद) की कटौती कर सकता है। उसके बाद केंद्रीय बैंक दिसंबर तक नीतिगत दरों का यही स्तर बरकरार रख सकता है। नोमुरा का यह भी मानना है कि तेल की ऊंची कीमतें और विदेशों में ब्याज दरों को ऊंचा किए जाने के रूझान के वैश्विक कारकों को ध्यान में रखते हुए आरबीआई के लिए यह फैसला आसान नहीं रहेगा।

 

 

RBI की मौद्रिक समीक्षा बैठक शुरू, नीतिगत ब्याज दरों में कटौती संभव

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-