nia 2016117 121855 07 11 2016

हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी को मारे गए चार महीने हो चुके हैं लेकिन कश्मीर घाटी अभी तक शांत नहीं हुई है। ऐसे में अब राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) घाटी में हिंसा को बढ़ावा देने और आतंकवाद फैलाने में पाकिस्तानी संलिप्तता का पर्दाफाश करने की तैयारी में जुटी है।

महीने के अंत तक एजेंसी लश्क-ए-तैयबा के आतंकी बहादुर अली के खिलाफ चार्जशीट दायर करने वाली है। अली वही आतंकी है जिसे वानी की मौत के कुछ दिन बाद 8 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था।

चार्जशीट में एनआईए यह बताएगी कि कैसे पाकिस्तानी सेना के मेजर और कप्तान न सिर्फ लश्कर-ए-तैयबा, हिजबुल मुजाहिद्दीन और जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों को नियंत्रण रेखा के पास पहुंचाते हैं, उन्हें घुसपैठ का रास्ता मुहैया कराते हैं और आधुनिक सैनिक उपकरण भी मुहैया कराते हैं बल्कि इसके साथ ही भारत में उनके मिशन की जानकारी भी देते हैं। वे इन आतंकियों को घुसपैठ कराने से पहले उनकी तैयारियों का भी जायजा लेते हैं।

 

NIA लश्कर के आतंकी के खिलाफ दायर करेगी चार्जशीट

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-