maharaj_1471664349

यहां लखनऊ यूनिवर्सिटी में शनिवार को छत्रपति शिवाजी की मूर्ति का अनावरण होने जा रहा है। इस दौरान राजनाथ सिंह और रामनाईक भी मौजूद रहेंगे। छत्रपति शाहूजी महाराज स्‍टेडियम में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में अखिलेश यादव भी शिरकत कर सकते हैं।वाइस चांसलर प्रोफेसर एस बी निम्‍से ने बताया कि छत्रपति शिवाजी महाराज की यह मूर्ति 13.5 फिट की होगी। इसके अलावा यूनिवर्सिटी के जिस टेनिस ग्राउंड में इसे लगाया गया है, उसे छत्रपति शिवाजी महाराज प्‍ले ग्राउंड के रूप में जाना जाएगा।जानिए कहां तैयार की गई है ये मूर्ति…..

मुंबई में तैयार हुई है मूर्ति, 27 लाख रूपए आया खर्च

एलयू के वीसी प्रोफेसर एस बी निम्‍से ने बताया कि इस मूर्ति को 27 लाख रूपए की लागत से तैयार करवाया गया है।

– इसे मुंबई के दहीसर में लगी शिवाजी की मूर्ति की तर्ज पर तैयार किया गया है।

– इस मूर्ति को शिवाजी की कई मूर्तियां बनाने वाले फेमस मूर्तिकार उत्‍तम परचाने से तैयार करवाया गया है।

– इसमें कांसे की धातु का प्रयोग किया गया है।

– इसमें शिवाजी को घोड़े पर आक्रामक मुद्रा में बैठा दिखाया गया है।

वीसी ने कहामराठी मूल का होने से इस मूर्ति का काेई संबंध नहीं

– वाइस चांसलर प्रोफेसर निम्‍से ने बताया कि वह मराठी मूल के रहने वाले हैं।

– इसके अलावा गवर्नर रामनाईक भी मराठी मूल के हैं।

– लेकिन इसकाेे मूर्ति स्‍थापना की वजह मानना बेबुनियाद है।

प्रतीक की लडाई में सीएम नहीं होंगे साथ

सूत्रों की मानें तो एलयू में इस कार्यक्रम को प्रतीकों की लड़ाई से जोड़कर देखा जा रहा है।

– प्रदेश में अगले साल होने वाले वि‍धानसभा चुनाव को लेकर प्रतीकों के सहारे राजनीति‍ करने वाले पीएम नरेन्‍द्र मोदी के मंत्रीमंडल के साथ यूपी के सीएम अखि‍लेश यादव नहीं खडे होंगे।

-केन्‍द्र में सरकार बनने के साथ ही कभी लौह पुरूष वल्‍लभ भाई पटेल तो कभी अम्‍बेडकर के नाम पर प्रतीक के सहारे यूपी की राजनीति‍ में शीर्ष सत्‍ता हासि‍ल करने में जुटी भारतीय जनता पार्टी के साथ सीएम नहीं होंगे।

-लखनऊ वि‍श्‍ववि‍द़यालय में छत्रपति‍ शि‍वाजी महाराज की मूर्ति‍ का अनावरण होना है।

-जि‍समें केन्‍द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सि‍ंह के साथ सीएम अखि‍लेश यादव को भी जाना था।

-लेकि‍न अभी तक सीएम कार्यालय की तरफ से वि‍वि‍ प्रशासन को सीएम के कार्यक्रम में शामि‍ल होने की हरी झंडी नहीं दी गयी है।

-ऐसे में केन्‍द्रीय गृहमंत्री के साथ प्रदेश के राज्‍यपाल रामनाईक उपस्‍थि‍त रहेंगे।

लखनऊ में अम्बेडकर की मूर्तिपर माल्यार्पण कर पीएम मोदी ने शुरू की थी प्रतीक की राजनीति

-वर्ष 2015 में डा भीमरॉव अम्‍बेडकर केन्‍द्रीय यूनि‍वर्सि‍टी में कार्यक्रम में भाग लेने आये पीएम नरेन्‍द्र मोदी ने डा अम्‍बेडकर महासभा के कार्यालय जाकर उनकी मूर्ति‍ पर माल्‍यार्पण कर राजनीति‍ गर्म कर दी थी।

-इसके अलावा हैदराबाद यूनि‍वर्सि‍टी के स्‍टूडेंट रोहि‍त वेमुला की मौत पर आंसू भी बहाए थे।

-वहीं भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमि‍त शाह भी लगातार दलि‍तों के साथ खाना खाने का कार्यक्रम कर रहे हैं।

सीएम से परमिशन नहीं ली गयी थी

– यूनिवर्सिटी से जुडे सूत्रों का कहना है कि‍ कार्यक्रम के लि‍ए बगैर परमि‍शन लि‍ये ही सीएम का नाम आमंत्रण कार्ड पर छाप दि‍या गया था।

-जि‍सके चलते यूनिवर्सिटी प्रशासन को सीएम के कार्यक्रम में आने की अनुमति‍ नहीं मि‍ल सकी।

-वहीं इस बारे में वि‍वि‍ के प्रवक्‍ता प्रो एन के पाण्‍डेय का कहना है कि‍ बाहर रहने की वजह से मुझे वि‍शेष जानकारी नहीं है। कुलपति‍ के आदेश से ही आमंत्रण कार्ड छपवाये गये थे।

LU में शिवाजी की मूर्ति का अनावरण आज, राजनाथ सिंह- रामनाईक रहेंगे मौजूद

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-