धर्मांतरण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मध्य प्रदेश के बैतूल में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के हिंदू सम्मेलन में सरसंघचालक मोहन भागवत ने हिंदुओं को जात-पात छोड़कर एक होने की अपील की। उन्होंने धर्म परिवर्तन पर अपनी बात रखते हुए कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य और आर्थिक रूप से पिछड़ेपन के कारण कुछ लोग हमारे ही लोगों को देश के खिलाफ खड़ा कर रहे हैं।

भागवत ने कहा कि हर व्यक्ति अपनी दृष्टि के मुताबिक अपना भगवान चुनता है, लेकिन सभी लोगों को भारत माता की आरती करनी चाहिए। मुस्लिम मंच पर हुई भारत माता की आरती की प्रशंसा करते हुए उन्‍होंने कहा कि मुस्लिम इबादत से मुस्लिम हैं, लेकिन राष्ट्रीयता के नाते वे हिंदू ही हैं।

लेकिन ऐसा नहीं है कि मोहन भागवत ने पहली बार कोई विवादित बयान दिया है। पहले भी कई बार उन्‍होंने ऐसे बयान दिए हैं, जिन पर कभी संघ को तो कभी भाजपा को सफाई देनी पड़ी है।

कुछ लोग हमारे ही लोगों को देश के खिलाफ खड़ा कर रहे: मोहन भागवत

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-