अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपना अभूतपूर्व फैसला सुनाया है। उन्होंने वर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा विभिन्न देशों में नियुक्त सभी राजदूतों को आदेश दिया है कि वे 20 जनवरी को उनका कार्यकाल शुरू होने के दिन तक विदेशों में अपने अपने पदों को छोड़ दें। राजनीतिक रूप से नियुक्त होने वाले इन राजदूतों को ट्रंप ने ग्रेस पीरियड भी नहीं दिया है। ट्रंप की ट्रांजिशन टीम ने ‘बिना किसी अपवाद’ के यह आदेश 23 दिसंबर को ही जारी कर दिया था। जिन राजनयिकों ने इसे देखा उन्होंने कहा कि – ‘इस फैसले के बाद कुछ महीनों के लिए अमेरिका को ब्रिटेन, जर्मनी और कनाडा जैसे कुछ खास देशों में दूतों के बिना ही काम करना पड़ेगा।’

इसका एक अर्थ यह भी हुआ कि राजदूतों के परिवार को बहुत कम नोटिस काल में अमेरिका अथवा उनके अपने देश में में लौटना पड़ेगा। जबकि इससे पहले दो पार्टियों के सत्ता परिवर्तन होने पर पुराने राजदूतों को एक-एक करके नए राजदूत द्वारा कार्यभार ले लेने के बाद कार्यमुक्त किया जाता था। उन्होंने कहा कि पारंपरिक रूप से ट्रंप का यह फैसला काफी सख्त है।ट्रांजिशन टीम के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक यह कदम किसी बैर भाव के तहत नहीं उठाया गया है, बल्कि ओबामा के विदेशों में नियुक्त लोगों को ठीक उसी तरह पद छोड़ना होंगे जिस प्रकार हजारों राजनीतिक सहयोगियों को व्हाइट हाउस और फेडरल एजेंसियों को समय से अपना कार्यभार छोड़ना पड़ता है। राजदूतों ने कहा है कि वे इस फैसले के बारे में नए विदेश मंत्री से इस बारे में अपील करने पर विचार कर रहे हैं। जबकि कुछ दूत इस बारे में ट्रंप की पत्नी मिलेनिया के समक्ष अपनी बात रखने की सोच रहे हैं, ताकि उनके बच्चों की पढ़ाई जारी रह सके।

ट्रंप ने फिलहाल सिर्फ दो राजदूतों की घोषणा की है
हालांकि ट्रंप ने उनके द्वारा 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद का कार्यभार संभालने तक सभी देशों के राजदूतों को पद छोड़ने का आदेश दिया है लेकिन दूसरी तरफ उन्होंने अभी तक सिर्फ दो देशों में ही नए राजदूतों के नाम की घोषणा की है। इनमें पहला नाम डेविड फ्रीडमैन है जो इस्राइल के राजदूत होंगे और दूसरा नाम टेरी ब्रांस्टेड का है जो चीन के राजदूत होंगे। जबकि इसकी संभावना काफी कम है कि ट्रंप 20 जनवरी तक विदेशों में अपने सभी राजदूतों के नाम घोषित कर पाएंगे।

20 जनवरी तक इस्तीफा दें ओबामा के सभी राजदूत: ट्रंप

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-