उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गुरुवार को चुनाव प्रचार के लिए हाथरस गए। वहां उन्होंने सदाबाद के सपा के प्रत्याशी देवेंद्र अग्रवाल के लिए प्रचार किया जिनपर बसपा कार्यकर्ता पुष्पेंद्र शर्मा के मर्डर का आरोप है। गौरतलब है कि बुधवार को कैंपेन के दौरान सपा और बपसा नेताओं के बीच लड़ाई हुई जिसमें गोली लगने से पुष्पेंद्र शर्मा की मौत हो गई थी। अग्रवाल लगभग एक घंटे तक कार्यक्रम में अखिलेश के साथ रहे। लेकिन पुलिस ने एफआईआर में नाम आने के बावजूद अग्रवाल को पकड़ने की कोशिश नहीं की। जब इंडियन एक्सप्रेस ने पुलिस से इस बारे में बातचीत की तो हाथरस के एसपी दिलीप कुमार ने कहा कि मामले की जांच चल रही है और अगर अग्रवाल के खिलाफ कोई सबूत मिलता है तो उन्हें जरूर पकड़कर लाया जाएगा।

अखिलेश ने भी अपने चुनावी भाषण में उस मर्डर का कोई जिक्र नहीं किया। उन्होंने बसपा पर आरोप लगाते हुए यह जरूर कहा कि दंगों, लड़ाईयों और आरोप लगाने में तो बसपा हमेशा आगे रहती है। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य में कानून सबके लिए बराबर है। इसके बाद रैली में लोगों को संबोधित करते हुए अग्रवाल ने कहा कि वहां के लोग उनको अच्छे से जानते हैं। अग्रवाल ने यह भी कहा कि लोग जानते हैं कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है।

बसपा के जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार देशमुख ने कहा कि अखिलेश चुनाव जीतने के लिए इतने आतुर हैं कि वह हत्या के आरोपी को भी सपोर्ट करने के लिए तैयार हो गए। देशमुख ने आगे कहा कि आम नागरिक का FIR में नाम आते ही उसको उठा लिया जाता है लेकिन सपा प्रत्याशी को खास रियायत दी गई है।

हाथरस में मर्डर के आरोपी के लिए वोट मांगते दिखे अखिलेश यादव

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-