उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायाम सिंह यादव का कहना है कि 10 साल पहले उन्हें प्रधानमंत्री बनने का मौका मिला था लेकिन कुछ लोगों की वजह से यह मौका उनके हाथ से छिन गया। सोमवार को उत्तर प्रदेश के इटावा में जसवंतनगर विधानसभा से सपा के प्रत्याशी और अपने भाई शिवपाल यादव के लिए जनसभा को संबोधित करने पहुंचे मुलायम ने कहा कि आज मेरा जो स्थान है वो सिर्फ जसवंतनगर के लोगों की ही देन है। मैं यहां के लोगों का बहुत शुक्रगुजार हूं। वहीं मुलायम ने अपने बेटे और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर टिप्पणी करते हुए कहा कि मौजूदा सरकार से हमें प्रत्येक काम के लिए विरोध कर उसे करवाना पड़ा। इतना ही नहीं प्रदेश के व्यपारियों को अच्छी सुविधाएं मुहैया कराने के लिए हमें प्रदेश के मंत्रियों का विरोध भी झेलना पड़ा। इसके बाद मुलायम ने कहा कि शिवपाल को हटा देने के बाद सरकार से जिद करके उन्हें वापस रखवाया। हम कर भी क्या सकते हैं अपनी ही सरकार है और अपना ही बेटा है।

मुलायम ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस सरकार के चलते देश के हालात इतने खराब हो चुके हैं कि लोग परेशान हो रहे हैं। महंगाई घटाने और इसके साथ जनता से कई वादे करते हुए मोदी जी ने वोट मांगे लेकिन सत्ता में आते ही वह जनता से किए सारे वादे भूल गए। अपनी सपा सरकार की तारीफ करते हुए मुलायम ने कहा कि किसान-व्यापारी सब हमारे अपने हैं। उनके लिए हमनें योजनाएं बनाई लेकिन दूसरी सरकारों की वजह से ये योजनाएं बंद कर दी गई लेकिन हमने फिर से उन्हें शुरु कर लोगों को उनका हक दिया।

हर काम विरोध कर कराना पड़ा, क्‍या कर सकते हैं अपना ही बेटा है : मुलायम सिंह यादव

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-