lalit-modi_landscape_1457559068

स्विट्जरलैंड ने ललित मोदी और उनकी पत्नी मीनल मोदी का नाम कर जांच को लेकर निगरानी सूची में रखा है। सूची में उन लोगों के नाम हैं, जिनके संबंध में भारतीय एजेंसियों ने स्विट्जरलैंड के कर विभाग से जानकारी और सहयोग मांगा है। इसी क्रम में स्विस अधिकारियों ने मोदी और उनकी पत्नी के खिलाफ मंगलवार को यह कदम उठाया।

असिस्टेंस (सहयोग) पर जारी दो गजट अधिसूचनाओं में स्विस संघीय कर प्रशासन (एफटीए) ने भारतीय एजेंसियों द्वारा उठाए गए सवालों का जवाब देने के लिए मोदी और उनकी पत्नी को 10 दिन का समय दिया है। यह समय कानून के मुताबिक, अपना पक्ष रखने के लिए दिया गया। उपरोक्त अधिसूचनाओं के बारे में इस संवाददाता की ओर से आइपीएल के पूर्व आयुक्त ललित मोदी को भेजे गए ईमेल और एमएसएस का कोई जवाब नहीं मिला है।

ध्यान रहे कि पहले भी भारतीय एजेंसियों की ओर मांगी गई जानकारी के आधार पर एफटीए विभिन्न अधिसूचनाओं में भारतीयों के नाम शामिल कर चुका है। अपने कानून के तहत स्विस सरकार भारत के साथ कई मामलों में जानकारियां साझा कर चुकी है। इनके आधार पर भारतीय कर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय ने अपनी जांच बढ़ाई है। इनमें उन बहुत से भारतीयों की जानकारी शामिल है, जिनका नाम एचएसबीसी की लीक हुई सूची में सामने आए थे।

ताजा अधिसूचना ऐसे समय में जारी की गई है, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्विट्जरलैंड की आधिकारिक यात्रा पर पहुंचने वाले हैं। इस यात्रा के दौरान काले धन के खिलाफ लड़ाई को लेकर दोनों देशों में गठजोड़ मजबूत होने की उम्मीद है। आइपीएल के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी मनी लांड्रिंग मामले में जांच का सामना कर रहे हैं। वह 2010 में भारत से लंदन चले गए थे।

 

स्विट्जरलैंड ने निगरानी सूची में रखा ललित मोदी का नाम

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-