Players Who Can Replace Steve Smith As Captain of Australia Test Team

होबार्ट टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका से हारकर ऑस्ट्रेलिया ने एक और टेस्ट सीरीज गंवा दी। 2010-11 के ऑस्ट्रेलिया पहली बार अपने घर में हारा है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह ऑस्ट्रेलिया की लगातार पांचवी हार थी। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस निराशाजनक प्रदर्शन के बाद कई बड़े कदम लेने का फैलसा किया है। खिलाड़ियों से लेकर सपोर्ट स्टाफ की नौकरियां दांव पर लगी हैं। स्टीव स्मिथ की कप्तानी पर भी सवाल उठने लगे हैं।

ऑस्ट्रेलिया हर हाल में एडीलेड में शुरु हो चुके डे-नाइट टेस्ट को जीतकर या ड्रॉ कराकर शर्मनाक क्लीन स्वीप टालना चाहेगी। लेकिन, अगर ऐसा ना हो सका तो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं। संभव है कि स्टीव स्मिथ की कप्तानी भी छिन सकती है। मगर सवाल यह है कि कंगारू टीम का कौन सा खिलाड़ी बतौर कप्तान स्टीव स्मिथ की जगह ले सकता है।

डेविड वॉर्नर

स्टीव स्मिथ के विकल्प के रूप में जो पहला नाम सामने आता है, वो टीम के उपकप्तान डेविड वॉर्नर का है। बाएं हाथ के बल्लेबाज डेविड वॉर्नर आईपीएल में बतौर कप्तान वो खुद को साबित कर चुके हैं। वॉर्नर की कप्तानी में कंगारू टीम श्रीलंका में वन-डे सीरीज़ जीती थी। वॉर्नर अपने कभी न हार मानने की रवैये के लिए जाने जाते हैं और अगर उन्हें टीम की कमान जाती है तो वो टीम में नई ऊर्जा का संचार कर सकते हैं।

जॉर्ज बेली

बेली खुद को टेस्ट में साबित करने के लिए एक और मौका पाने के हकदार हैं। जॉर्ज बेली ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत ही बतौर कप्तान की थी। हालांकि वो टीम बिलकुल नई नवेली टीम थी। बेली, डेव ग्रेगरी के बाद सिर्फ दूसरे ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने डेब्यू बतौर कप्तान किया। बेली ने क्लार्क की अनुपस्थिति में भी कई बार वऩडे टीम की कमान संभाली है। साल 2013 में भारत में बेली ने कप्तानी करते हुए सीरीज़ में सबसे ज्यादा रन बनाए। सीमित ओवरों के क्रिकेट में शानदार रिकॉर्ड रखने वाले बेली को टेस्ट में कम ही मौके मिले हैं।

जोश हेजलवुड

जोश हेजलवुड उन चार खिलाड़ियों में से एक हैं जिनकी जगह टीम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाले तीसरे और आखिरी टेस्ट के लिए पक्की थी। हेजलवुड भी कप्तानी के लिए एक विकल्प हैं। हेजलवुड गजब के गेंदबाज़ हैं और अपनी लाइन-लेंथ के लिए जाने जाते हैं जिसकी तुलना महान गेंदबाज ग्लेन मैकग्राथ से की जाती है। अपने डेब्यू के बाद से ही हेजलवुड टीम के स्थायी सदस्य बने रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया का कप्तान बनकर वो और खतरनाक बन सकते हैं। हेजलवुड की उम्र को ध्यान रखते हुए वो लंबे अंतरराष्ट्रीय करियर के लिए तैयार हैं इसलिए उन्हें भविष्य के कप्तान के तौर पर एक विकल्प सोचकर देखा जा रहा है।

मैथ्यू वेड

ऑस्ट्रेलिया के लिए तीनों फॉर्मैट्स में खेल चुके इस विकेटकीपर बल्लेबाज में निरंतरता की कमी है। अगर ऑस्ट्रेलियाई चयनकर्ता किसी नए चेहरे को कप्तान बनाने पर विचार कर रहे हैं तो वेड एक अच्छा विकल्प हैं। मौजूदा टीम के विकेटकीपर पीटर नेविल संघर्ष करते दिख रहे हैं और वेड टीम में पाने हकदार हैं। वेड एक भरोसेमंद कीपर हैं और अभी तक खेले 12 टेस्ट में उनकी औसत 35 के करीब है। ऑस्ट्रेलिया को इस वक्त ऐसे ही कप्तान की जरूरत है और वेड इस टीम को प्रोत्साहित कर सकते हैं।

नाथन लायन

लायन ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल ऑफ स्पिनर हैं और 60 टेस्ट का अनुभव उन्हें टीम का कप्तान बनाने का एक अच्छा विकल्प बनाता है। हेजलवुड की ही तरह लायन भी खेल के आज्ञाकारी शिष्य हैं जो एक छोर बांधकर रखते हैं, जिससे तेज़ गेंदबाज़ नहीं थके। लायन इस समय ऑस्ट्रेलिया के बेस्ट स्पिनर हैं और उनके आंकड़े भी इस बात को साबित करते हैं। अगर उन्हें टीम की जिम्मेदारी दी जाती है तो वो उसे भुना सकते हैं जैसे कि वो गेंदबाज़ी के दौरान करते हैं।

स्टीव स्मिथ की जगह इस खिलाड़ी को मिलेगी ऑस्ट्रेलियाई टीम की कमान

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-