मुंबई। राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नव निर्माण का महाराष्ट्र के स्थानीय निकाय चुनाव में प्रदर्शन बहुत खराब रहा है। मुंबई महानगर पालिका (BMC) को छोड़ दिया जाए तो अन्य 9 स्थानीय निकायों में उनकी पार्टी सिंगल डिजिट में सिमट गई है।

  • मुंबई: मुंबई महानगर पालिका में उनकी पार्टी के खाते में 10 सीटें जाती नजर आ रही हैं, जबकि पिछले चुनावों में उनके 28 पार्षद थे।
  • पिंपरी-चिंचवाड़: राज ठाकरे को यहां से कुछ उम्मीद थी, क्योंकि पिछली बार 4 प्रत्याशी विजयी हुए थे। इस बार खाता नहीं खुला है।
  • नासिक: यहां भी तगड़ा झटका लगा है। पिछली बार के 40 पार्षदों की तुलना में इस बार महज तीन सीटें आती दिख रही हैं।
  • उल्हासनगर: पिछली बार यहां से मनसे का एक पार्षद था। इस बार खाता नहीं खुला है।
  • अकोला: यहां पिछली बार 1 सीट मिली थी। इस बार खाता नहीं खुला है।
  • पुणे: पुणे महानगर पालिका में इस बार उन्हें 5 सीटें मिल सकती हैं। वहीं पिछली बार 29 सीटों पर मनसे प्रत्याशी विजयी हुए थे।
  • नागपुर: संघ के गढ़ में भी राज ठाकरे की पार्टी का सुपड़ा पूरी तरह साफ है। अब तक एक भी सीट नहीं मिली है, जबकि पिछली बार 2 प्रत्याशी विजयी हुए थे।
  • ठाणे: यहां मनसे के चार प्रत्याशी आगे चल रहे हैं, जबकि पिछली बार पार्टी की झोली में यहां से 2 पार्षद गए थे।

सिंगल डिजिट में सिमटे राज ठाकरे

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-