मुलायम उन विधायकों, मंत्रियों व नेताओं के टिकट काटेंगे जो संकट के समय उनका छोड़ गए। वह प्रत्याशियों की नई सूची जारी करेंगे। मुलायम खेमे के नेताओं के मुताबिक शनिवार को एक बार फिर सुलह की कोशिशें होंगी। इसमें आजम खां की अहम भूमिका हो सकती है। नेताजी ने उनसे कह दिया है कि वह जो लिखकर ले आएंगे, उन्हें मंजूर होगा। मुलायम खेमा सीएम अखिलेश यादव की कई शर्तें मानने को तैयार है, लेकिन नेताजी के सम्मान से समझौता करने को तैयार नहीं है।

साथ छोड़ने वाले विधायक, मंत्रियों पर होगी कार्रवाई

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-