shaktikant-das_1479877988

  • ग्रामीण इलाकों में नोटबंदी के बाद नकदी की समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है। सरकार की ओर से प्रेस कान्फ्रेंस करते हुएआर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने घोषणा की कि अब सहकारी बैंकों को भी नकदी बदलने की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए सहकारी बैंकों को और कैश दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि सहकारी बैंकों को 21 हजार करोड़ रुपये दिए जाएंगे जिससे किसानों को नकदी बांट सकें। दास ने कहा इसका सीधा लाभ किसानों को मिलेगा जिन्हें अपनी फसलों को बोने में आसानी रहेगी। 31 दिसंबर तक डेबिट कार्ड और डिजिटल ट्रांजेक्‍शन पर कोई चार्ज नहीं लगेगा
  • नाबार्ड के जरिए किसानों के लिए फंड की व्यवस्‍था की जाएगी
  • जिला सहकारी बैंकों को मिलेंगे 21 हजार करोड़ रुपये
  • पेटीएम जैसे ईवालेट में 20 हजार रुपये तक जमा होंगे, अभी तक जमा होते थे अधिकतम दस हजार
  • फोन से ट्रांजेक्‍शन पर सर्विस चार्ज नहीं लगेगा
  • Rupay कार्ड पर स्विचिंग चार्ज खत्म कर दिया गया है
  • फसल लोन के लिए किसानों को कैश मुहैया कराया जाएगा
  • 82 हजार एटीएम से निकल रहे हैं नए नोट
  • 24 नवंबर के बाद कुछ जगहों पर पुराने नोट चलने के संबंध में अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है
  • सरकार ने UPI नाम से एक ऐप लांच करने की भी घोषणा की है जिसके द्वारा आसानी से पैसे मंगाए या भेजे जा सकते हैं

 

‘सहकारी बैंक भी बदल सकेंगे नोट, ऑनलाइन ट्रांजेक्श न पर सभी चार्ज खत्म’

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-