images

टोक्यो। अपनी जापान यात्रा के आखिरी दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारतीय मूल के लोगों को संबोधित किया। मौके का फायदा उठाते हुए मोदी ने भारत में नोट बंदी के बाद के हालात पर भी खुलकर अपने विचार रखे। मोदी ने कहा कि फैसले पर लोगों का आशीर्वाद मिल रहा है।

देश की आजादी से अब तक का हिसाब चेक करूंगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि लोग अब काला धन गंगा में बहा रहे हैं। पहले जिस गंगा में कोई एक रुपया नहीं डालता था, अब उसमें 500-1000 रुपए के नोट बहाए जा रहे हैं। उन्होंने संकेत दिए कि काले धन पर सरकार और सख्त कदम उठा सकती है।

साथ ही उन्होंने एफडीआई के मायने ‘फर्स्ट डेवलप इंडिया’ बताया। उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार देश के इमानदार नागरिकों के हितों की रक्षा के लिए हर संभव कदम उठाएगी।

इससे पहले मोदी कावासाकी हैवी इंडस्‍ट्री को देखने पहुंचे। यहां पर हाईस्‍पीड बुलेट ट्रेनों का निर्माण किया जाता है।

यहां मोदी ने कहा कि भारत को भी काफी समय से बुलेट ट्रेन का इंतजार है। इस दौरान उनके साथ जापान के पीएम शिंजो आबे भी मौजूद थे। पीएम मोदी को वहां पर इंडस्‍ट्री से जुड़े सभी पहलुओं की जानकारी दी गई। यहां पर वह बुलेट ट्रेन में ड्राइवर सीट पर भी बैठे।

इससे पूर्व पीएम मोदी जापानी पीएम शिंजो अबे के साथ टोक्यो से प्रसिद्ध शिंकनसेन बुलेट ट्रेन के में सवार होकर कोबे पहुंचे। पीएम ने अपनी इस यात्रा की कुछ फोटो भी ट्वीट की हैं। यहां पर दोनों देशों के बीच कई एमओयू पर साइन भी किए गए। इस दौरान दिए गए अपने संबोधन में उन्‍होंने दोनों देशोंं के बीच मजबूत संबंधों केे पीछे एक-दूसरे पर विश्‍वास को बताया।

उन्‍होंने कहा कि इस विश्‍वास की बदौलत ही दोनों देशों के बीच वर्षों से मजबूत संबंध रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि इन संबंधों की बदौलत दोनों ही देशों के विकास करने की रफ्तार में तेेजी देखने को मिलेगी। इस मौके पर गुजरात सरकार और हयूगो प्रिफेक्‍चर के बीच कोबे में एक एमओयू भी साइन किया गया।

सले पर लोगों का आशीर्वाद मिल रहा है: मोदी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-