तमिलनाडु में चेन्नई के पास दो जहाजों के टकराने की वजह से समुद्र में तेल फैल गया। ये तेल तैरता हुआ चेन्नई के कई सारे बीचों पर आ गया है। जिसमें पालावाकम बीच, कुप्पम बीच शामिल हैं। इसकी वजह से आसपास का सारा पानी काला और चिकना हो गया है। माना जा रहा है कि अगर इसे जल्द ही साफ नहीं किया गया तो यह सोमवार तक बाकी जगहों पर भी फैल जाएगा। गौरतलब है कि दो जहाजों के टकराने की वजह से यह घटना घटी। पर्यावरण मंत्रालय ने अपनी एक टीम को शुक्रवार को चेन्नई भेजा। वह इस बात का पता लगाएगी कि पर्यावरण को कितना नुकसान हुआ।

इस मुद्दे को राज्यसभा में भी उठाया गया। कन्नीमोजी ने कहा कि इस तरह के नुकसान के बाद भी सरकारी एजेंसियों की तरफ से उनकी मदद नहीं की जा रही है। उनका आरोप है कि सरकार के विभिन्न विभाग मदद के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि तेल चेन्नई के आसपास पानी में लगभग 35 किलोमीटर दूर तक तेल फैल गया है।

खबरों के मुताबिक, 10-15 टन तेल अब भी रामकृष्ण नगर के कुप्पम बीच बीच पर रुका हुआ है। लगभग 70 टन तेल रूपी कीचड़ को राम कृष्ण नगर के कुप्पम बीच से कोस्ट गार्ड्स द्वारा हटाया जा चुका है। उसे शुक्रवार तक साफ करने की बात कही जा रही है। समुद्र तट के आसपास के पत्थर भी तेल से काले हो गए हैं। सबपर तेल की एक पतली परत सी जम गई है।

समुद्र तट पर पुहंची तेल की कीचड़, कछुओं समेत कई जीवों की गई जान

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-