शोपियां में सेना के काफिले पर आतंकी हमला

श्रीनगर। आतंकियों द्वारा गुरुवार की सुबह घात लगाकर किए गए हमले में तीन सैन्‍यकर्मी शहीद व लेफ्टिनेंट कर्नल समेत पांच सैन्‍यकर्मी जख्‍मी हो गए। इस दौरान आतंकियों व सेना के जवानों के बीच हुई मुठभेड़ में एक स्‍थानीय बुजर्ग महिला भी गोली लगने से मारी गई। हमले के बाद भाग निकले आतंकियों को जिंदा अथवा मुर्दा पकडने के लिए पूरे इलाके को सुरक्षाबलों ने घेर कर तलाशी अभियान चला रखा है।

यहां मिली जानकारी के अनुसार, यह हमला शोपियां जिले के मुलु चित्रीगाम गांव में सुबह दो बजे के करीब हुआ है। सेना की 44 आरआर के जवानों का एक दल अपने वाहनों में वहां से गुजर रहा था कि आतंकियों ने हमला बोल दिया। एक अन्‍य जानकारी के मुताबिक, सेना के जवानों को सूचना मिली थी कि गांव में पांच से सात आतंकी आए हैं।

जवान जैसे ही गांव में दाखिल होने लगे तो वहां पहले से ही घात लगाए बैठे आतंकयों ने उन पर अपने स्‍वचालित हथियारों के साथ दो तरफ से हमला किया। आतंकियों ने जवानों पर राइफल ग्रेनेड और यूबीजीएल भी दागे। अचानक हुए इस हमले में तीन सैन्‍यकर्मी घायल हो गए।

घायल हुए जवानों को वहां से हटाते हुए अन्‍य सैन्‍यकर्मियों ने अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया। इसके साथ ही वहां मुठभेड़ शुरू हो गई। लगभग 50 मिनट तक दोनों तरफ से गोलियां चलती रही और इसके बाद आतंकी वहां से भाग निकले, लेकिन इस दौरान पांच सैन्‍यकर्मी और मुठभेड़ स्थल के पास के मकान में रहने वाली एक महिला जाना बेगम भी जख्‍मी हो गई।

सभी घायलों को अस्‍पताल ले जया गया,जहां डाक्‍टरों ने तीन सैन्यकर्मियों को शहीद लाया घोषित कर दिया। जाना बेगम भी अस्‍पताल पहुंचने से पहले ही रास्‍ते में दम तोड़ गई। पांचों सैन्‍यकर्मियों का सेना के अस्‍पताल में उपचार जारी है।

शहीद सैन्‍यकर्मियों की पहचान सिपाही विकास कुमार, सिपाही श्रीजीत एमजे और सिपाही गुलाम मोहम्‍मद राथर के रुप मे हुई है। घायल सैन्‍यकर्मियों में लेफ्टिनेंट कर्नल मुकेश झा, मेजर अमरदीप सिंह, नायक सुरेंद्र कुमार, नाय‍‍क सुमेर सिंह और सिपाही अजय पाल सिंह शामिल हैं।

About The Author
-