हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में फैली हिंसा को लेकर शिवसेना ने भाजपा पर निशाना साधा है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा है कि ‘कश्मीर की वर्तमान स्थिति राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए नुकसानदायक है, क्या महबूबा मुफ्ती के हाथों में कश्मीर घाटी की कमान देखर भाजपा ने गलती तो नहीं की?

सामना ने आगे लिखा है मौजूदा हालात को देखकर लग रहा है कि कश्मीर का सवाल पहले की तुलना में और ज्यादा उलझ गया है। सामना ने महबूबा मुफ्ती पर भी निशाना साधते हुए कहा कि महबूबा मुफ्ती उपर से शांति का आह्वाण कर रही हैं लेकिन बुरहान वानी के बारे में उनकी निश्चित भूमिका क्या है, यह जानना जरूरी है।

शिवसेना ने महबूबा मुफ्ती की भूमिका को लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि इससे पहले अफजल गुरू को कश्मीर का स्वतंत्रता सेनानी या क्रांतिकारी मानने की वकालत भी महबूबा मुफ्ती ने ही की थी। सामना ने आगे लिखा है कि कश्मीर में जो आग लगी हुई है उसकी आंच देश में भी लग रही है।

शिवसेना ने बुरहान वानी पर महबूबा की भूमिका पर उठाए सवाल

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-