shivsenamla_

ट्रेन में साइड बर्थ मिलने से खफा शिवसेना के एक विधायक ने चेन खींचकर ट्रेन चलने से कई बार रोका। उनकी इस हरकत के कारण ट्रेन करीब एक घंटे देरी से रवाना हो पाई। साथ ही 2000 से अधिक यात्रियों को असुविधा उठानी पड़ी।

विधानसभा सत्र खत्म होने के बाद पाटिल के उनके क्षेत्र में वापस जाने के लिए देवगिरि एक्सप्रेस में सेकंड एसी कोच की व्यवस्था की गई है। उन्हें सेकंड एसी में साइड बर्थ 35 और 36 सीट मिली। इसे देखकर नाराज हुए पाटिल और उनके सहयोगी ने बार-बार चेन खींचकर ट्रेन को प्लेटफॉर्म पर ही रोके रखा।

छत्रपति शिवाजी टर्मिनल से ट्रेन को निर्धारित समय 9.10 मिनट पर छूटना था, लेकिन वह 9.57 मिनट पर ही छूट सकी। बाद में विधायक और उनके सहयोगियों ने मस्जिद स्टेशन पर फिर से ट्रेन रोक दी। मस्जिद स्टेशन से ट्रेन 10 बजकर छह मिनट पर चल सकी।

विधायक की इस हरकत के कारण दो और लंबी दूरी की ट्रेन सिद्धेश्वर एक्सप्रेस और सीएसटी-मंगलौर एक्सप्रेस 15 मिनट देरी से चलीं। चार लोकल ट्रेन की सेवाएं भी बाधित हुईं और 1000 से अधिक लोगों की भीड़ प्लेटफॉर्म पर जमा रही।

सेंट्रल रेलवे के जनरल मैनेजर सुनील कुमार ने कहा कि मामले की जांच के लिए मैं एक कमिटी का गठन करूंगा। देवगिरी एक्सप्रेस की चेन कई बार खींची गई, जिसकी वजह से ट्रेन एक घंटे से अधिक लेट हो गई। इस मामले में क्या हुआ, इसकी पूरी जांच रेलवे करेगा।

 

शिवसेना के विधायक ने एक घंटे रोके रखी ट्रेन

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-