तमिलनाडु में चल रहे सत्ता संघर्ष को आज विराम लग सकता है। शशिकला खेमे के ई. पलानीसामी को राज्यपाल सरकार बनाने के लिए कह सकते हैं। सूत्रों की मानें तो कार्य वाहक मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम की उम्मीदों पर पानी फिर सकने की पूरी संभावना है।दरअसल, आय से अधिक संपत्ति के मामले में शशिकला के जेल जाने पर पनीरसेल्वम की फिर से मुख्यमंत्री बनने की उम्मीद को बल मिला था, लेकिन बुधवार देर रात राज्यपाल से हुई दोनों खेमों के नेताओं की मुलाकात के बाद पनीरसेल्वम का मामला खटाई में पड़ता दिख रहा है।

इसकी बड़ी वजह है पलानीसामी का वह दावा, जिसमें उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात के दौरान कहा कि उनके साथ AIADMK के 124 विधायकों का समर्थन है। जबकि पनीरसेल्वम ने राजभवन में कहा कि उनके पास 8 विधायकों का समर्थन है। इससे पहले वह कहते रहे हैं कि उनके समर्थकों को शशिकला ने एक होटल में बंद कर रखा है।

सूत्रों की मानें तो पलानीसामी के समर्थकों के आंकड़े को देखते हुए राज्यपाल विद्यासागर राव उन्हें सदन में बहुत साबित करने का मौका दे सकते हैं। हालांकि अभी तक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राज्यपाल ने किसी भी पक्ष को सरकार गठन के लिए आमंत्रित नहीं किया है।शशिकला खेमे के एक और समर्थक डी. जयकुमार ने बताया कि समर्थकों ने राज्यपाल से गुरुवार को पलानीसामी को बुलाकर सरकार बनाने का निवेदन किया है। जयकुमार के मुताबिक पलानीसामी को विधायकों का पूरा समर्थन हासिल है।

शशिकला खेमे के पलानीसामी आज बन सकते हैं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-