एआईडीएमके महासचिव वीके शशिकला ने जेल में अपनी पहली रात फर्श पर सोकर बिताई। शशिकला ने जज से विशेष सुविधा वाली कोठरी मांगी थी, लेकिन उनकी मांग को ठुकरा दिया गया। शशिकला को कैदी नंबर 9234 का टैग दिया गया है। उन्हें भ्रष्टाचार के मामले में मंगलवार को दोषी ठहराया गया था और कोर्ट ने उन्हें तुरंत सरेंडर करने के लिए कहा था। इस मामले में उन्हें चार साल की सजा हुई है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक 61 वर्षीय शशिकला के साथ जेल की कोठरी में दो और महिलाएं भी रह रही हैं। हालांकि, यह स्षष्ट नहीं हुआ कि जेल की कोठरी में वे इल्लावरासी के साथ हैं या फिर किसकी ओर के साथ। इल्लावरासी को भी शशिकला के साथ सुप्रीम कोर्ट ने दोषी ठहराया था। शशिकला को सोने के लिए चारपाई देने का फैसला डॉक्टरों द्वारा गुरुवार को लिया जाएगा। जेल अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार को शशिकला ने नाश्ते के तौर पर चटनी के साथ इमली चावल खाया। उन्होंने कुछ मिनट के लिए ध्यान भी किया।

बता दें, साल 2014 में भी शशिकला ने तमिलनाडु की पूर्व सीएम जयललिता के साथ इसी जेल में चार सप्ताह बिताए थे। लेकिन अब तक बहुत कुछ बदल चुका है। लेकिन अब जेल के बाहर कोई पार्टी का कार्यकर्ता नहीं है, पिछली बार पार्टी कार्यकर्ताओं ने जेल के बाहर ही ढेरा जमाया हुआ था।

शशिकला कैदी नंबर 9234, जेल में फर्श पर बीती पहली रात

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-