पाकिस्तान की शीर्ष अदालत ने देश के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिवार से लंदन स्थित फ्लैटों के दस्तावेजी सबूत पेश करने को कहा है, ताकि इन पर उनके मालिकाना हक की पुष्टि की जा सके। दरअसल, पनामा लीक मामले को लेकर शरीफ परिवार के लंदन स्थित फ्लैट जांच के दायरे में हैं। पाक सुप्रीम कोर्ट ने दो हफ्ते के अंतराल के बाद फिर से हाई प्रोफाइल पनामागेट मामले की शुरुआत की है। मामले में पाक पीएम शरीफ और परिजन पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि शरीफ ने 1990 के दशक में पीएम रहने के दौरान गैर कानूनी तरीके से लंदन में संपत्ति खरीदी थी।

पनामा पेपर लीक होने पर शरीफ की विदेश में संपत्ति का खुलासा हुआ। इसमें शरीफ और उनके परिजनों के विदेशी कंपनियों में भारीभरकम निवेश का भी खुलासा हुआ। पांच सदस्यीय खंडपीठ ने शरीफ के वकील सलमान अकरम राजा से लंदन के पार्क लेन फ्लैटों के दस्तावेजी सबूत पेश करने को कहा, ताकि इसमें शरीफ के बेटे हुसैन नवाज के मालिकाना हक की पुष्टि की जा सके।

शरीफ पर कसा शिकंजा, अदालत ने मांगे दस्तावेजी सबूत

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-