सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को देश में मोबाइल मैसेंजर ऐप व्‍हाट्सऐप पर बैन लगाने की मांग करने वाली याचिका खारिज कर दी है। दरअसल व्हाट्सऐप पर एनक्रिप्शन सिस्टम लागू होने के बाद किसी के लिए भी यह संभव नहीं है कि दो लोगों के बीच या ग्रुप के बीच की गई बात को पकड़ सके। यह खास फीचर आतंकवादियों और अफवाह फैलाने वालों के लिए वरदान साबित हुआ है। इसी खतरे को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई थी।

सुप्रीम कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए इसे ख‍ारिज कर दिया और याचिकाकर्ता को टेलिकॉम डिस्‍प्‍यूट सेटलमेंट एंड एपीलेट ट्रिव्‍यूनल में जाने के लिए कहा है।

हरियाणा के आरटीआई कार्यकर्ता ने लगाई थी याचिका

सुप्रीम कोर्ट से व्हाट्सऐप पर बैन लगाने की याचिका हरियाणा के आरटीआई कार्यकर्ता सुधीर यादव ने लगाई थी। एक्टिविस्ट सुधीर यादव की इस याचिका में कहा गया था कि व्हाट्सऐप ने अप्रैल से ही एनक्रिप्शन लागू किया है जिससे इस पर चैट करने वालों की बातें सुरक्षित रहती हैं और यहां तक कि सुरक्षा एजेंसियां भी इन्हें डिकोड नहीं कर सकतीं। याचिका में कहा गया था कि अगर खुद व्हाट्सऐप भी चाहे तो वह भी इन संदेशों को उपलब्ध नहीं कर सकता।

 

व्हाट्सऐप पर बैन की मांग करने वाली याचिका SC ने की खारिज

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-