job-for-government-doctors-5660898d0353e_exlst

राजस्थान के सरकारी अस्पतालों में अब विधायकों की सिफारिशी पत्र लाने वाले मरीज को चिकित्सक प्राथमिकता से देखेंगे और फिर उपचार करेंगे। बिना सिफारिश के आम मरीजों का नंबर तब ही आएगा जब चिकित्सक विधायक की सिफारिश वाले मरीजों को देखकर फ्री होंगे, फिर चाहे मरीज कितना ही गंभीर बीमार क्यों ना हो।

वैसे तो यह अब सुनने में अजीब लगती है, लेकिन यह सही है, सरकार के चिकित्सा शिक्षा विभाग की ओर से इस बारे में प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों को निर्देश दिए गए है। विधायकों को खुश करने के लिए चिकित्सा विभाग के अधिकारियों ने यह निर्देश चिकित्सा मंत्री स्तर से जारी कराए। विधायकों की सिफारिश को प्राथमिकता देने संबंधी निर्देश सभी मेडिकल कॉलेज प्रशासन एवं अस्पतालों में पहुंचने के बाद गंभीर रूप से

 

विधायकों की सिफारिश वाले मरीजों को प्राथमिकता देंगे डॉक्टर

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-