स्टार फुटबॉलर लियोनेल मैसी ने कोपा अमेरिका कप फाइनल की हार के बाद अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास ले लिया। वे अब अर्जेंटीना का प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे, लेकिन बार्सिलोना क्लब की तरफ से खेलते रहेंगे।

चिली ने कोपा अमेरिका कप फाइनल में पेनल्टी शूटआउट में अर्जेंटीना को 4-2 से पराजित किया था। फाइनल में हार के तुरंत बाद मैसी ने एक इंटरव्यू में घोषणा कर दी कि वे अब अर्जेंटीना टीम का प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे।

मैसी ने संन्यास की घोषणा के तीन दिन पहले अर्जेंटीना फुटबॉल महासंघ (एएफए) के प्रति अपनी झुंझलाहट व्यक्त की थी। कोपा अमेरिका फाइनल की हार के बाद दुनिया के इस सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी ने तय किया कि बस अब बहुत हो गया। उनके फैंस सोच रहे होंगे कि उन्होंने यह फैसला भावुक होकर लिया और वे इस पर पुनर्विचार करेंगे। अगले विश्व कप को अभी दो वर्ष बाकी है और हो सकता है कि वह मैसी के लिए इस खिताब को जीतने का अंतिम मौका होगा।

29 वर्षीय मैसी ने कहा, ‘यह मेरे और अर्जेंटीना टीम के लिए कठिन समय है। यह कहना कठिन है, लेकिन अर्जेंटीना टीम के साथ मेरा सफर अब समाप्त हो गया है। मैसी की अर्जेंटीना टीम के साथ 2014 के बाद यह खिताबी मुकाबले में तीसरी हार है। अर्जेंटीना को 2014 विश्व कप फाइनल में जर्मनी के हाथों 0-1 से हार झेलनी पड़ी थी। चिली ने पिछले वर्ष (2015 में) कोपा अमेरिका कप फाइनल में अर्जेंटीना को पेनल्टी शूटआउट में पराजित किया था। इसी प्रकार अर्जेंटीना को 2007 में कोपा अमेरिका कप फाइनल में भी शिकस्त का सामना करना पड़ा था।

लियोनेल मैसी का अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-