भारी बर्फबारी के बाद पहाड़ों में रिकॉर्ड ठंड से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है। ठंड और शीतलहर के कारण लोग अपने घरों में दुबकने को मजबूर है। ताजा हिमपात से जहां उत्तराखंड के ऊपरी इलाकों में कई मार्ग बंद हो गए हैं वहीं आधे हिमाचल में पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है। राजधानी शिमला में छह साल बाद न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड-3.2 डिग्री तक लुढ़क गया है। वहीं उत्तराखंड के चमोली जिले में बुधवार को मौसम ने अचानक करवट बदली और बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब, रुद्रनाथ, तुंगनाथ और केदारनाथ सहित ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जमकर बर्फबारी हुई। जिले के ऊंचाई वाले करीब 35 गांव बर्फ से ढक गए हैं। निजमुला घाटी के पाणा, ईराणी और झींझी गांवों में भी बर्फबारी होने से पैदल रास्ते बंद हो गए हैं। यहां पेयजल लाइनें जम गई हैं। बर्फबारी से बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ से आगे बंद हो गया है। बुधवार को अमृतसर में 0.9 डिग्री सेल्सियस रहा। लुधियाना में 1.6 और पटियाला में 2.7 डिग्री पर टेम्परेचरपहुंच गया। चंडीगढ़ भी 2.4 डिग्री पर रहा। महाराष्ट्र में मुंबई में तीन साल का सबसे ठंडा दिन रहा। टेम्परेचर 12.5 डिग्री तक गिर गया। झारखंड में बारिश के बाद कड़ाके की ठंड से पूरा प्रदेश ठिठुर रहा है। कई शहरों में रात का पारा खिसककर 10 डिग्री तक चला गया। मंगलवार को कांके सबसे ठंडा रहा। यहां मिनिमम टेम्परेचर 7.4 डिग्री पर पहुंच गया, जबकि मैक्जिमम टेम्परेचर 23.3 डिग्री रहा। ठंड से धनबाद के कतरास में 55 साल की महिला की मौत हो गई, जबकि भूली में 50 साल के फुलेना चाैहान ने दम तोड़ दिया। राजधानी रांची में मंगलवार को सुबह पांच बजे से ही बारिश शुरू हो गई। 11:30 बजे तक रुक-रुक कर बारिश होती रही। यहां 0.2 एमएम बारिश हुई। अधिकतम तापमान 26 डिग्री और न्यूनतम तापमान 13.6 डिग्री रहा। मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार को भी बादल छाए रहेंगे। गुरुवार को आसमान साफ होगा। इसके बाद तापमान में तीन डिग्री तक गिरावट आने की संभावना है। मौसम साफ होने के बाद कड़ाके की ठंड पड़ेगी और ठिठुरन बढ़ेगी।

रिकॉर्ड तोड़ ठण्ड से ठिठुरा उत्तर भारत

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-