सत्तारूढ समाजवादी पार्टी पर वर्चस्व को लेकर दो महीने चले शह मात के खेल में मुख्यमंत्री अखिलेश ने पिता मुलायम सिंह यादव को पटखनी देकर आखिरकार साइकिल की सवारी कर ली। चुनाव आयोग के फैसले से मुख्यमंत्री अखिलेश पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मान लिए गए है। इसके बाद अखिलेश की पार्टी सपा अब कांग्रेस और दूसरे छोटे दलों के साथ गठबंधन की राह पर निकल पड़ी है।

अखिलेश अब मंगलवार को बतौर अध्‍यक्ष पार्टी मुख्‍यालय जाएंगे और समर्थकों व कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे। सूत्रों के अनुसार, अखिलेश बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं के साथ महागठबंधन और चुनावी रणनीति को लेकर चर्चा करेंगे। बताया जा रहा है कि अखिलेश कांग्रेस व आरएलडी के साथ महागठबंधन की घोषणा कर सकते हैं। महागठबंधन को लेकर तैयारी पूरी कर ली गई है। अखिलेश इस महागठबंधन की अगुवाई कर सकते हैं।

सूत्रों के अनुसार, इस महागठबंधन में कांग्रेस को 90-100 सीटें और आरएलडी को 25-30 सीटें मिल सकती हैं। बता दें कि विधानसभा चुनाव का पहला चरण के लिए नामांकन काम मंगलवार से शुरू हो रहा है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश कर सकते हैं महागठबंधन का ऐलान

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-