The Ram issue is a part of our manifesto in 2014, how can we run away from it: Subramanian Swamy  

राम मंदिर का मुद्दा यूपी चुनाव में एक बार फिर चर्चा के केंद्र में आ गया है। 2017 में उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय की ओर से अयोध्या में रामायण संग्रहालय बनाने की घोषणा की गई। वहीं, सूबे की सपा सरकार ने अयोध्या में राम थीम पार्क बनाने का फैसला किया। इन दोनों ही फैसलों को लेकर राजनीतिक बयानबाजी का दौर भी तेज हो गया है। बीजेपी के विरोधी दल रामायण संग्रहालय बनाने की फैसले की आलोचना कर रहे हैं तो पार्टी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि राम मंदिर का मुद्दा बीजेपी के घोषणापत्र का हिस्सा है और वह इससे नहीं भाग सकती।

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए बीजेपी सांसद स्वामी ने कहा, ‘राम का मुद्दा हमारे 2014 के घोषणापत्र का हिस्सा है। भला हम उससे कैसे भाग सकते हैं? हमें अपना वादा पूरा करना ही होगा।’ हालांकि स्वामी ने यह भी कहा कि वह यह जबरदस्ती पूरा नहीं किया जाएगा, इसे कानूनी तरीके से ही अंजाम दिया जाएगा। स्वामी ने कहा, ‘हम यह नहीं कह रहे हैं कि हम इसे (राम मंदिर) जबरदस्ती बनाने जा रहे हैं, हम सुप्रीम कोर्ट के रास्ते जाएंगे।’

राम मंदिर घोषणापत्र का हिस्सा, हम भाग कैसे सकते हैं

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-