jawahar-bagh_1465250716

ढाई साल के कब्जे के बाद जब जवाहर बाग खुला तो हर कोई हैरान रह गया। साधारण धोती या लुंगी कुर्ता पहने वाले रामवृक्ष का रहन सहन रईसों जैसा था। जिला उद्यान अधिकारी के आवास को उसने अपना ठिकाना बना रखा था।

वैसे तो वह अकेला रहता था, लेकिन बेडरूम में मंहगी साड़ियां बरामद हुई हैं। इनमें से कुछ जल भी गईं हैं। लड़कियों के जींस-टॉप भी उसके कमरे से मिले हैं। आंगन में भी महिलाओं के कपड़े सूख रहे थे।

पुलिस यह भी जांच कर रही  है कि यह महिलाएं कौन थी, क्या वे गिरफ्तार की गई महिलाओं में हैं या फिर फरार हो गईं। क्या परिवार की महिलाएं भी आती जाती थीं।

उसकी नजदीकी किन-किन महिलाओं से थी, पुलिस इसकी जानकारी कर रही है ताकि उसके और उसके संपर्कों के बारे में और अधिक जानकारी जुटाई जा सके।

बाग में अवैध शराब बनाने की भट्टियां भी चलती थी। बाग की जमीन में जगह-जगह घड़े दबे मिले हैं। इन सभी घड़ों में गुड़ का पानी भरा हुआ था। माना जा रहा है कि इसी गुड़ से यहां शराब तैयार की जाती थी। अंग्रेजी शराब की खाली बोतलों का भी जखीरा था। बियर की बोतलें तो जगह-जगह बिखरीं पड़ी मिलीं। इससे यह तो साफ है कि यहां शराब पीने पर कोई पाबंदी नहीं थी।

रामवृक्ष के बेडरूम से मिले लड़कियों के जींस-टॉप

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-