index

नई दिल्ली। सीनियर जर्नलिस्ट राजदीप सरदेसाई ने हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का इंटरव्यू लिया। मगर इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना शुरू हो गई है। सोमवार को इंडिया टुडे ने सोनिया गांधी से बात की। करीब नौ साल बाद गांधी ने कोई साक्षात्कार दिया है। इस पर सरदेसाई को ट्विटर पर खासी आलोचना का शिकार होना पड़ रहा है। यूजर्स ने राजदीप सरदेसाई के साधारण सवालों को लेकर नाराजगी दर्ज कराई। हालांकि कुछ ऐसे भी थे जिन्हें यह पसंद आया।

सोनिया गांधी ने इस दौरान इंदिरा गांधी, उनकी हत्या, राजीव गांधी, कांग्रेस की वर्तमान स्थिति को लेकर भी बातें की। हालांकि राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने के सवाल पर सोनिया गांधी ने सिर्फ इतना कहा कि इस जवाब के लिए मैं सही नहीं हूं।

नरेंद्र मोदी की तुलना इंदिरा गांधी से किए जाने के सवाल पर सोनिया ने कहा ‘बिल्कुुल नहीं।’ इंदिरा गांधी का सहानुभूति आमजन के साथ थी। आज के नेताओं में ऐसा कुछ नहीं है।’

बातचीत के दौरान ही सोनिया ने यह स्पष्ट किया कि वो कभी भी राजनीति में नहीं आना चाहती थीं। इंदिरा गांधी के कहने पर राजनीति में आईं। राजनीति में परिवारवाद के सवाल पर सोनिया ने कहा ‘डॉक्टर का बेटा डॉक्टर बन सकता है तो राजनेता का बेटा राजनेता क्यों नहीं। जनता ही इनका चुनाव करती हैं।’

राजनेता का बेटा राजनेता क्यों नहीं बन सकता: सोनिया गांधी

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-