चुनावी माहौल में धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने के लिए भड़काऊ भाषण व बिना अनुमति के जनसभा करने पर मंगलवार को तीन प्रत्याशियों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया। पुलिस का कहना कि बसपा नेता याकूब कुरैशी ने धार्मिक भावनाओं को भड़काने का काम किया। जबकि बसपा प्रत्याशी योगेश वर्मा और भाजपा प्रत्याशी सोमेंद्र तोमर के पक्ष में जनसभा करने का आरोप है। वहीं, हस्तिनापुर सीट से बसपा प्रत्याशी योगेश वर्मा के खिलाफ भी मवाना थाने में केस दर्ज हुआ है। आरोप है कि 30 जनवरी को योगेश वर्मा ने बगैर अनुमति के मवाना में जनसभा की। जिससे माहौल खराब हो सकता था। मवाना के दरोगा की तहरीर पर केस दर्ज हुआ। वहीं, परतापुर थाने में शहर विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी सोमेंद्र तोमर के समर्थन में जनसभा करने पर जयवीर सिंह प्रधान के खिलाफ केस दर्ज हुआ। आरोप है कि बिना अनुमति के जयवीर ने लोगों की भीड़ बुलायी और सोमेंद्र तोमर के पक्ष में जनसभा की थी। दक्षिण सीट से बसपा प्रत्याशी याकूब कुरैशी ने एक सभा में खूब तीखे बोल बोले थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) हिंदुस्तान पर कब्जे की साजिश कर रहा है। वह यहीं नहीं रुके। यहां तक कह दिया कि संघ उनके वोट का अधिकार भी छिन लेगा। संभव है कि यह उत्तर प्रदेश और हिंदुस्तान का यह आखिरी चुनाव हो। संघ के लोगों के सत्ता में आने के बाद नमाज और अजान बंद हो जाएगी।

यूपी और हिन्दुस्तान का यह आखिरी चुनाव होगा : याकूब

| उत्तर प्रदेश, मेरठ | 0 Comments
About The Author
-