वॉशिंगटन। यदि डिजिटल सेवाएं मुहैया कराने वाली कंपनी याहू की 4.8 अरब डॉलर में प्रस्ताविक बिक्री की प्रक्रिया पूरी हो जाती है, तो याहू एक नई कॉर्पोरेट पहचान को अपनाएगा। इसके साथ ही इसके बोर्ड के आकार में कटौती हो सकती है।

कंपनी की योजना याहू का नाम बदलकर Altaba Inc करने की है। मगर, इससे पहले वह अपने ईमेल, वेबसाइट, मोबाइल ऐप और एडवर्टाइजिंग टूल को Verizon पर ले जाएगी।

याहू की वेरिजन को प्लान्ड सेल पूरी होने के बाद सीईओ मारिसा मेयर, सह-संस्थापक डेविड फिलो और कंपनी के वर्तमान में 11 सदस्यीय बोर्ड में से चार अन्य निदेशक इस्तीफा दे देंगे। माना जा रहा है कि Verizon अपने स्वामित्व के तहत याहू के ब्रांड को बनाए रखेगी।

मगर, साल 2013 और 2014 में हुए कंप्यूटर हैकिंग के दो मामलों के सामने आने के बाद वेरिजन का सौदा खतरे में पड़ गया है। माना जा रहा है कि इन साइबर हमलों में 1 अरब से अधिक यूजर एकाउंट से जुड़ी निजी जानकारी को चुरा लिया गया है।

वेरिजन इस बात का पुनः आकलन कर रही है कि क्या उसे याहू के सेल प्राइस पर फिर से बात करनी चाहिए या हैकिंग के खुलासे के बाद डील को रद्द कर देना चाहिए। हालांकि, याहू सौदा बरकरार रखने के लिए लड़ रही है।

याहू एक नई कॉर्पोरेट पहचान को अपनाएगा

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-