लखनऊ। यूपी के समाजवादी कुनबे में भारी उठापटक का दौर जारी है। शुक्रवार को शिवपाल और अमर सिंह के साथ लंबी बैठक के बाद मुलायम ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस बुलाई लेकिन इसके 15 मिनट बाद ही आजम वहां पहुंचे और प्रेस कॉन्‍फ्रेंस रद्द कर दी गई।

इसके बाद मीडिया से बात करते हुए अमर सिंह ने कहा कि मैं अखलेश या उनके विकास कार्यों का विरोधी नहीं हूं। उनके बड़े होने में मेरा योगदान सबको पता है और सार्वजनिक है। मुझ पर बेबुनियाद आरोप लगाए जा रहे हैं। वहीं शिवपाल को लेकर कहा कि मुख्‍यमंत्री जिनके घर पले बढ़े उन्‍हीं चाचा के आज वो विरोधी हो गए। मैं उन्‍हें आशीर्वाद देता हूं अौर आश्‍वासन देना चाहता हूं कि मैं उनके विकास के विरोध में नहीं हूं।

झगड़े के बीच अखिलेश गुट एक बार फिर से चुनाव आयोग जाएगा और साइकिल पर दावा ठोकेगा। उनके समर्थन में खड़े रामगोपाल यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि हमारे पास विधायकों और एमएलसी का समर्थन है।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि परिवार के खलनायक बताए जा रहे अमर सिंह ने पार्टी से इस्‍तीफा दे दिया है और कुछ देर बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करेंगे वहीं शिवपाल अखिलेश से मिलने की तैयारी में हैं।

वहीं खबर है कि अख‍िलेश गुट कांग्रेस से हाथ मिलने के लिए तैयार है। कहा जा रहा है कि राहुल गांधी के विदेश दौरे से आने के ठीक बाद सपा और कांग्रेस के गठबंधन पर निर्णय हो सकता है। वहीं मुलायम खेमे में हलचल जारी है और गुरुवार रात तक चली बैठकों में भी कोई बड़ा समाधान नहीं निकल पाया है। रात में बैठक के बाद मुलायम के घर से निले शिवपाल मीडिया से बात किए बीना सीधे चले गए।

देर रात तक चली बैठक में परिवार के अन्‍य लोग भी शामिल थे जिसमें अखलेश अध्‍यक्ष बने रहने के लिए अड़ गए।

इससे पहले अख‍िलेश द्वारा गुरुवार को बुलाई गई विधायकों की बैठक के बाद उन्‍हें अब तक 210 विधायकों और 50 एमएलसी का समर्थन मिल चुका है।

मैं अखिलेश का विरोधी नहीं: अमर सिंह

| उत्तर प्रदेश, लखनऊ | 0 Comments
About The Author
-