images

टोक्यो। जापान दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वहां की प्रमुख कंपनियों के सीईओ से मुलाकात की। इसके बाद मोदी ने आईजेबीएलएफ की बैठक को भी संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्‍होंने कहा कि भारत और जापान मिलकर विकास की नई ऊंचाइयों को छू सकते हैं।

उन्‍होंने कहा कि मेक इन इंडिया और मेड बाय जापान मिलकर शानदार काम कर रहे हैं। इस दौरान उन्‍होंने भारत को स्केल, स्पीड और स्किल के क्षेत्र में आगे ले जाने के लिए जापान की महत्वपूर्ण भूमिका को काफी सराहा।

उन्‍होंने कहा कि वह भारत को विश्व की सबसे खुली अर्थव्यवस्था बनाना चाहते हैं। साथ ही पीएम मोदी ने सस्ती श्रम शक्ति, बड़ा घरेलू बाजार और मैक्रो इकोनॉमिक स्थायित्व से भारत में निवेश करने का बेहतरीन मौका बताया। पीएम मोदी ने कहा कि एशिया को आगे बढ़ाने के लिए भारत-जापान को मिलकर काम करना होगा।

इस दौरान उन्‍होंने जापान के साथ वर्षों से अपने सहयोग और दोस्‍ताना संबंधों का भी जिक्र किया। अपने संबोधन में उन्‍होंने मेक इन इंडिया का जिक्र करते हुुए जापानी कंपनियों से भारत में निवेश करने की भी अपील की। उन्‍होंने निवेशकों को विश्‍वास दिलाया कि वह भारत में निवेश का बेहतर वातावरण देने के साथ ही अन्‍य सुविधाएं भी देंगे। कंपनियों के सीईओ से बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि जापान का सॉफ्टवेयर और भारत का हार्डवेयर मिलकर दुनिया में धमाल मचा सकते हैं।

उन्‍होंने यह भी कहा कि मौजूदा समय में जापान भारत मे चौथा बड़ा निवेशक है, जो कई क्षेत्रों में काम कर रहा है। यह बात न सिर्फ भारत में अपार संभावनाओं को दर्शाने में सहायक है बल्कि भारत की बेहतर पॉलिसी को भी दर्शाती है।

मेक इन इंडिया और मेड बाय जापान मिलकर शानदार काम कर रहे

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-