supreme-court_1460313040

केरल हाईकोर्ट ने इस साल के ऑल इंडिया प्री-मेडिकल एंट्रेस टेस्ट (एआईपीएमईटी) में मुस्लिम छात्राओं को हिजाब पहनने की अनुमति दे दी है। हालांकि अदालत ने यह अनुमति इस शर्त पर दी है कि हिजाब पहनने वाली सभी छात्राओं को परीक्षा से आधे घंटे पहले परीक्षा केंद्र में उपस्थित होना होगा, ताकि जरूरी होने पर तलाशी ली जा सके।

दूसरी तरफ, सीबीएसई भी मेडिकल एंट्रेंस में पूरे देशभर की मुसलिम छात्राओं को बुरका और स्कार्फ पहनने की इजाजत देने पर विचार कर रहा है। एक अधिकारी के मुताबिक इस संबंध में बोर्ड की तरफ से जल्द ही अधिसूचना जारी की जा सकती है।

न्यायाधीश मोहम्मद मुश्ताक ने रिट याचिका पर सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया। इस याचिका में अमनाह बिंत बशीर ने सीबीएसई द्वारा एआईपीएमईटी-2016 के लिए निर्धारित ड्रेस कोड को चुनौती दी थी।

हिजाब पहनने की अनुमति देते हुए अदालत ने साफ किया कि इसके लिए छात्राओं को आधे घंटे पहले परीक्षा केंद्र में पहुंचना होगा और जरूरत पड़ने पर तलाशी व जांच करने देना होगा।

मुसलिम छात्राओं को एआईपीएमटी में हिजाब पहनने की इजाजत

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-