vijay-malya-2_1457489555

बैंकों के करीब 9,400 करोड़ रुपये के कर्ज को लेकर कानूनी प्रक्रियाओं का सामना कर रहे उद्योगपति विजय माल्या के बारे में नई जानकारी सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, माल्या का नाम इंग्लैंड की मतदाता सूची में शामिल है। इसके अलावा लंदन के नजदीक उनके महलनुमा मकान का मालिकाना हक रखने वाली एक कंपनी सेंट किट्स में रजिस्टर्ड है।

माल्या लंदन के उत्तर में हर्टफोर्डशायर के टेविन गांव में एक तीन मंजिले महलनुमा मकान में रह रहे हैं। इस मकान को लेडीवाक कहा जाता है। “द संडे टाइम्स” के मुताबिक, माल्या ने लेडीवाक को इंग्लैंड में अपना आधिकारिक आवास होने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि इसकी जानकारी भारतीय अधिकारियों को दी गई है। मकान 1.15 करोड़ पौंड (करीब 110 करोड़ रुपये) में फार्मूला वन चैंपियन लुइस हैमिल्टन के पिता से ऑफशोर से जुड़ी कंपनी के द्वारा खरीदी गई। ऑफशोर से जुड़ी कंपनियों द्वारा खरीदी गई संपत्तियां ब्रिटिश सरकार की जांच के घेरे में हैं।

उसका मानना है यह तरीका अपनाकर कर बचाने के लिए वास्तविक मालिक खुद को पर्दे के पीछे रख सकता है। हालांकि माल्या का कहना है कि मकान का स्वामित्व पूरी तरह कानूनी है। उन्होंने कहा कि इस संपत्ति को खरीदने में कर चोरी शामिल नहीं है। वह 1992 से ब्रिटिश नागरिक हैं।

अखबार की रिपोर्ट में कहा गया है कि आधिकारिक दस्तावेज में लेडीवाक का मालिकाना हक लेडीवाक एलएलपी कहे जाने वाले लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप के रूप में है। कंटीनेंटल एडमिनिस्ट्रेशन सर्विसेज कंपनी समेत इसके दो सदस्य हैं। कंटीनेंटल एडमिनिस्ट्रेशन सर्विसेज टैक्स हैवेन सेंट किट्स और नेविस में रजिस्टर्ड है। इस संपत्ति को खरीदने के लिए स्विट्जरलैंड के निजी बैंक एडमांड डी रॉथ्सचाइल्ड ने जुलाई 2015 में कर्ज दिया। आधिकारिक कागजात में कर्ज लेने वाली कंपनी का नाम लेडीवाक इंवेस्टमेंट्स है। यह कंपनी एक अन्य टैक्स हैवेन ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड से निगमित है।

माल्या का नाम इंग्लैंड की मतदाता सूची में

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-