manja 17 08 2016

मांझे ने दिल्ली में एक और बच्ची की जान ले ली है। रानी बाग इलाके में माता-पिता के साथ कार से घर लौट रही चार साल की बच्ची सांची गोयल की गर्दन मांझे से कटकर अलग हो गई। घटना के समय वह कार की सनरूफ से सिर निकालकर बाहर देख रही थी। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजन को सौंप दिया है। पुलिस लापरवाही से मौत का मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार, आलोक गोयल परिवार के साथ दीपाली चौक में रहते हैं। रोहिणी में उनका फर्नीचर का कारोबार है। सांची पीतमपुरा स्थित बाल भारती स्कूल में नर्सरी की छात्रा थी और एकमात्र संतान थी। माता-पिता के अनुसार, एक हफ्ते पूर्व उसने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर फिल्म दिखाने का वादा लिया था।

ऐसे में सोमवार को उसने जिद की तो दोनों होंडा सिटी कार से दोपहर में करीब साढ़े तीन बजे उसे प्रशांत विहार स्थित पीवीआर में फिल्म दिखाने ले गए थे। शाम करीब साढ़े छह बजे फिल्म समाप्त होने के बाद लौटते समय यह हादसा हो गया।

दिल्ली सरकार ने चीनी मांझे की बिक्री पर लगाया प्रतिबंध

दिल्ली सरकार के पर्यावरण विभाग ने राजधानी में चीनी मांझे की बिक्री और उसके इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार ने यह फैसला चीनी मांझे से होने वाली दुर्घटनाओं के बाद लिया है। इससे पहले दिल्ली सरकार ने 4 अगस्त को दिल्ली हाई कोर्ट को बताया था कि चीनी मांझे पर जल्द ही प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

 

मांझे से कटकर अलग हो गई बच्ची की गर्दन

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-