पटना। जदयू नेता शरद यादव की मुश्किलें बढ़ गई हैं। हालांकि उन्‍होंने अपने बयान को लेकर सफाई दी है लेकिन राष्‍ट्रीय महिला आयोग ने इस बयान को लेकर उन्‍हें नोटिस जारी कर दिया है। श्‍रद यादव ने मंगलवार को बयान दिया था जिसमें उन्‍होंने बेटी की इज्‍जत की तुलना वोट से की थी।

बयान के बाद विवाद शुरू होने पर उनहोंने सफाई देते हुए कहा था कि मैंने कुछ गलत नहीं कहा। यादव बोले के बेटी और वोट के प्रति मोहब्‍बत एक सी होनी चाहिए। मैंने बिल्‍कुल गलत नहीं कहा, जैसे बेटी से प्‍यार करते हैं वैसे ही वोट से भी करना चाहिए तब देश और राज्‍य की सरकार अच्‍छी बनेगी।

दरअसल शरद यादव एक कार्यक्रम में बोलते हुए अगर बेटी की इज्‍जत चली गई तो मोहल्‍ले और गांव की ही इज्‍जत जाएगी, लेकिन कहीं वोट बिक गया तो देश की इज्‍जत चली जाएगी।

यादव ने आगे कहा कि देश में वोट को लेकर बड़े पैमाने पर सब जबह समझाने की जरूरत है। बेटी की इज्‍जत से वोट की इज्‍जत बड़ी है।

महिला आयोग ने शरद यादव को जारी किया नोटिस

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-