नई दिल्ली। ऑनलाइन बुकिंग और भुगतान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सिलेंडर मूल्य पर छूट प्रदान करने की स्कीम शुरू की गई। इस स्कीम से उपभोक्ताओं को फायदे की जगह नुकसान उठाना पड़ रहा है।

ऑनलाइन बुकिंग करने पर 5 रुपए की छूट के बावजूद लोगों से बैंकिंग चार्ज के नाम पर 8 रुपए ज्यादा लिए जा रहे हैं, लिहाजा अब भी उनसे तीन रुपए वसूले जा रहे हैं। इसके चलते यह सिस्टम ऑफलाइन डिलीवरी से महंगा पड़ रहा है।

अगर गैस एजेंसियों की मानें तो 20 प्रतिशत लोग ही ऑनलाइन भुगतान कर रहे हैं। इसके अलावा इंटरनेट के माध्यम से बुकिंग करने पर तत्काल भुगतान करना होता है। जबकि आईवीआरएस से बुकिंग करवाने पर डिलीवरी के समय भुगतान होता है। इसलिए भी उपभोक्ता ऑनलाइन बुकिंग नहीं करते हैं।

ऑनलाइन बुकिंग पर ई-वॉलेट, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड से बुकिंग के समय ही भुगतान करने पर 5 रुपए की छूट मिलती है। इसके बाद भी ऑनलाइन बुकिंग व भुगतान करने पर गैस सिलेंडर ऑफलाइन डिलीवरी से महंगा पड़ता है। इसका कारण है बैंकों द्वारा नेट बैंकिंग पर लिया जाने वाला चार्ज। अमूमन हर बैंक लगभग 1.5 प्रतिशत चार्ज नेट बैंकिंग पर लेती है।

महंगी पड़ रही एलपीजी की ऑनलाइन बुकिंग

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-