नई दिल्ली। राज्यसभा में पीएम मोदी के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को लेकर दिये बयान पर कांग्रेस भड़क गई है। कांग्रेस ने पीएम के बयान के दौरान ही सदन का बहिष्कार किया और अब इस मांग को लेकर अड़ गई है कि पीएम अपने बयान पर माफी मांगे। कांग्रेस अपने विरोध में अन्य दलों को भी सामिल करने की तैयारी मे है।

गुरुवार को राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने सदन में हंगामा करते हुए पीएम से माफी की मांग करने लगे और उनके बहिष्कार का ऐलान कर दिया। कांग्रेस के इस विरोध पर भाजपा नेता और केंद्रिय मंत्री वैंकेया नायडू ने कहा है कि पीएम माफी क्यों मांगे, कांग्रेस ने इससे पहले पीएम का कई बार अपमान किया है।

मामले को लेकर लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि यह दुर्भाग्य की बात है कि पीएम मोदी ने पूर्व पीएम के बारे में ऐसी भाषा के उपयोग किया। हम इसकी निंदा करते हैं।

बता दें कि बुधवार को पीएम मोदी ने राज्यसभा में कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा था कि मनमोहन सिंहजी पूर्व प्रधानमंत्री हैं और आदरणीय व्यक्ति हैं।

पिछले 30-35 साल से देश की अर्थव्यवस्था में उनके निर्णायक संबंध रहे हैं। आजादी के बाद के 70 साल में से आधे समय तक इतने नजदीक से अर्थव्यवस्था से जुड़े रहने वाला कोई और व्यक्ति नहीं है। उनके समय में इतने घोटाले हुए लेकिन वह हमेशा बेदाग रहे।

खास कर हम राजनेताओं को डॉक्टर साहब से सीखना चाहिए। इतना सब हुआ लेकिन उनके दामन पर कोई छींटे नहीं पड़े। बाथरूम में रेनकोट पहन कर नहाना यह डॉक्टर साहब ही जानते हैं। प्रधानमंत्री की इस तीखी टिप्पणी के बाद कांग्र्रेस सदस्य सदन से वाकआउट कर गए।

मनमोहन सिंह को लेकर दिये बयान पर कांग्रेस भड़क गई

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-