राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और हिंदूवादी संगठनों की कार्यप्रणाली पर हमेशा सवाल उठाने वाले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर परोक्ष रूप से इन संगठनों पर हमला बोला है। उन्होंने मध्य प्रदेश में आईएसआई के लिए कथित तौर पर काम करने के आरोप में पकड़े गए 11 आरोपियों को लेकर ट्वीट किया है। दिग्विजय ने कहा है कि भोपाल में पकड़े गए आईएसआई एजेंटों में एक भी मुसलमान नहीं है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘भोपाल में पकड़े गए आईएसआई के एजेंटों में एक भी मुसलमान नहीं है, उनमें से एक भाजपा का सदस्य है। मोदी भक्तों कुछ तो सोचो।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने पाकिस्तान को भारतीय सामरिक महत्व की जानकारियां देने में सहयोग करने के आरोप में 11 लोगों को हिरासत लेने का गुरुवार को खुलासा किया था। इन आरोपियों द्वारा संचालित किए जा रहे निजी टेलीफोन एक्सचेंज भी एटीएस ने पकड़े। आरोपी हवाला के जरिए रकम लेकर भारत की खुफिया जानकारी पाकिस्तान तक भेजने का काम करते थे। गौरतलब है कि दिग्विजय पूर्व में हिंदूवादी संगठनों से संबंद्ध लोगों पर भी आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाते रहे हैं और इस बार फिर उन्होंने शुक्रवार को एक ट्वीट के जरिए उन लोगों (हिंदूवादी संगठन) को घेरने की कोशिश की है, जो हमेशा एक वर्ग विशेष के लोगों पर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप लगाते रहते हैं।

भोपाल में पकड़े ISI एजेंटों में एक भी मुसलमान नहीं – दिग्विजय सिंह

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-