वाशिंगटन। अमेरिकी कांग्रेस में इस बार पांच सीटों पर काबिज होने से उत्साहित भारतीय-अमेरिकी समुदाय की नजरें अब व्‍हाइट हाउस पर भी जमी हैं। कुल आबादी में समुदाय की हिस्सेदारी मात्र एक फीसदी है। अल्पसंख्यक समुदाय कांग्रेस में अपनी संख्या दोगुनी करना चाहता है। यह कठिन लक्ष्य लगातार तीन बार सांसद चुने गए अमी बेरा ने तय किया है। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में चार भारतीय-अमेरिकी सदस्यों में बेरा सबसे वरिष्ठ हैं।

देश भर से जुटे भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित करते हुए 51 वर्षीय बेरा ने कहा, “आज एक ऐतिहासिक दिन है।” चार वर्ष पहले उन्होंने वाशिंगटन डीसी में आयोजित समारोह में कहा था कि वह चाहते हैं कांग्रेस में पांच भारतीय-अमेरिकी हों। उन्होंने कहा, “इस बार ऐसा ही हुआ है। अब हमें 10 सदस्यों और भारतीय अमेरिकी राष्ट्रपति का लक्ष्य तय करना चाहिए।”

पहली बार बेरा 2012 में प्रतिनिधि सभा के लिए चुने गए थे। इस बार सदन में उनके अलावा तीन और भारतीय-अमेरिकी चुने गए हैं। ये तीन सदस्य इलिनोइस से राजा कृष्णमूर्ति, वाशिंगटन स्टेट से प्रमिला जयपाल और कैलीफोर्निया से रो खन्ना हैं।

भारतीय-अमेरिकी समुदाय की नजरें अब व्‍हाइट हाउस पर

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-