यूपी चुनाव में तमाम दल हर वो रणनीति को अपना रहे हैं जो उन्हें विजयरथ पर सवार कर सके। लेकिन जिस तरह से लंबे समय से कांग्रेस और सपा पर परिवारवाद का भाजपा आरोप लगाती आई है उसकी पोल खुल गई है। भारतीय जनता पार्टी ने यूपी चुनाव के लिए उम्मीदवारों की जो लिस्ट जारी की है उसमें 15 ऐसे नाम हैं जिन्हें सिर्फ परिवारवाद के नाम पर टिकट दिया गया है। हाल ही में पीएम मोदी ने भाजपा नेताओ से अपील की थी कि परिवार व रिश्तेदारों के लिए टिकट ना मांगे, लेकिन पीएम की अपील को दरकिनार करते हुए पार्टी ने जमकर रिश्तेदारों को टिकट बाटें हैं।

भाजपा की 155 उम्मीदवारों की लिस्ट में 15 रिश्तेदारों को टिकट दिया गया है तो 94 ऐसे नाम हैं जिन्हें पहली बार टिकट दिया गया है। इसमें 30 ऐसे लोग भी हैं जो दूसरी पार्टी से भाजपा में शामिल हुए हैं और उन्हें पार्टी ने टिकट  दिया है। पार्टी ने सवर्ण वोटरों को ध्यान में रखते हुए 52 फीसदी उम्मीदवारों को टिकट दिया है। पार्टी की ओर से जारी किए गए 304 नामों में एक भी मुस्लिम चेहरे को टिकट नहीं दिया गया है।

भाजपा में रिश्तेदारों और दलबदलुओं की बल्ले-बल्ले

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-