dabolim-city-for-the-bricssummit_20161015_101229_15_10_2016

गोवा। ब्रिक्‍स सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्‍य नेता गोवा पहुंच चुके हैं। शनिवार सुबह रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन भी गोवा पहुंच गए। हालांकि गोवा एयरपोर्ट पर छाए घने कोहरे के चलते उनका विमान कुछ देरी से यहां पहुंचा है।

करीब 11 बजें भारत और रूस के राष्‍ट्रपति के बीच एक बैठक होगी जिसके बाद एक संयुक्‍त बयान जारी किया जाएगा। पुतिन के भारत आगमन पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर उनका भारत में स्‍वागत कहा है। उन्‍होंने रूसी भाषा में भी ट्वीट किया है।

ब्रिक्‍स सम्‍मेलन में आतंकवाद समेत कई मुद्दों पर चर्चा होगी। इस दौरान भारत और रूस के बीच करीब 39 हजार करोड़ रुपये के 18 समझौतों पर हस्‍ताक्षर किए जाएंगे। रक्षा क्षेत्र में होने वाले यह सभी समझौते भारत के लिए काफी अहम माने जा रहे हैंं। इन समझौतों से भारत की सैन्‍य क्षमता में काफी इजाफा होगा।

गोवा में आज से शुरू होने वाले ब्रिक्‍स सम्‍मेेलन को देखते हुए सुरक्षा के चाक चौबंद प्रबंध किए गए हैं। काफी संख्‍या में सुरक्षाबलों को यहां पर तैनात किया है। ब्रिक्‍स सम्‍मलेन की ओर जाने वाले रास्‍तों पर इसके सदस्‍य देशों के झंडे सड़क के दोनों ओर लगाए गए हैं। वहीं हमले की आशंका के मद्देनजर समुद्री तट पर सेना के जवानों और एंटी एयरक्राफ्ट गन को लगाया गया है।

इस पूरे इलाके पर सुरक्षाबलों की कड़ी निगाहें लगी हैं। वहीं एसपीजी, एनएसजी के दस्‍तों को भी इस काम में लगाया गया है। इसमें हिस्‍सा लेने के लिए भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज पहले से ही वहां पर मौजूद हैं। इस बार कमल के फूल को ब्रिक्‍स सम्‍मलेन का निशाना बनाया गया है। इसमें अलग-अलग रंग भरे गए हैं।

 

 

ब्रिक्‍स सम्मेलन आज से, भारत उठाएगा आतंक का मुद्दा

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-