दिल्ली के नए उपराज्यपाल और आप सरकार के बीच टकराव की शुरुआत हो गई है। उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली की अरविन्द केजरीवाल सरकार की डीटीसी बसों के किराए में कटौती की फाइल वापस लौटा दी है। देल्ली सरकार ने उपराज्यपाल को डीटीसी बसों के किराए 75 फीसदी तक घटाने का प्रस्ताव दिया था।

गौरतलब है कि दिल्ली के परिवहन मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिसंबर में डीटीसी बसों के किराए में कटौती की घोषणा की थी, जिसकी फाइल इस हफ्ते की शुरुआत में नए उपराज्यपाल अनिल बैजल को भेजी थी।

दिल्ली सरकार ने हर रूट पर एसी बसों का किराया 10 रुपये, नॉन एसी और कलस्टर बसों का किराया सभी रूट के लिए 5 रुपये करने का ऐलान किया था, वहीं नॉन एसी और एसी बसों के डेली पास एक महीने तक 20 रुपये में मिलने की बात भी कही थी।

दिल्ली सरकार के मुताबिक ये कदम प्रदूषण की समस्या से लड़ने के लिए उठाया गया था। राजधानी में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए सरकार ने बसों के किराए में कटौती का प्रस्ताव दिया था। डीटीसी के बेड़े में फिलहाल करीब 4000 बसें हैं और डीटीसी में रोजाना करीब 35 लाख लोग सफर करते हैं।

बैजल ने लौटाई बसों का किराया घटाने की फाइल

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-