बुलंदशहर में आमने-सामने आए दो बाहुबली, क्या होगा परिणाम

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बुलंदशहर की सदर सीट से  बसपा से हाजी अलीम और रालोद से भगवान शर्मा उर्फ गुडडू पंडित उम्मीदवार हैं। हाजी अलीम पिछले 10 सालों से बसपा के टिकट पर बुलंदशहर सदर सीट से विधायक है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह के पुत्र राजवीर उर्फ राजू भैया को हराकर डिबाई सीट पर पिछले 10 सालों से गुडडू पंड़ित का कब्जा है। दोनों ही बाहुबली अब बुलंदशहर सदर सीट पर टकरायेगें।
बुलंदशहर सदर सीट से हाजी अलीम एक बार फिर बसपा के टिकट पर मैदान में हैं। वे लगातार दो बार विधायक रहे हैं और अब तीसरी बार भी पूरे जोश के साथ चुनाव मैदान में ताल ठोंक रहे हैं। बाहुबली कहे जाने वाले अलीम पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को डाकू कह कर चर्चा में आ गए थे। वैसे ये कोई पहला मौका नहीं था जब अलीम चर्चा में रहे हों।

2007 में जब गुड्डू पंडित उर्फ श्रीभगवान शर्मा ने बसपा के टिकट पर डिबाई विधानसभा सीट से ताल ठोकी थी तब किसी को अंदाजा नहीं था कि क्या होने वाला है। सारे सियासी समीकरणों के धता बता कर गुड्डू विधायक बन गए। उन्होंने कल्याण सिंह का गढ़ कहे जाने वाले डिबाई में उन्हीं के बेटे को हरा दिया। 2012 में उन्होंने एक बार फिर जीत हासिल की। इस बार भी उन्होंने कल्याण के बेटे राजू को हरा दिया। तीसरी बार वो चुनाव मैदान में बुलंदशहर सदर सीट से रालोद के टिकट पर उतर रहे है। देखना ये होगा कि इस बार जनता का दिल वो जीत पाएंगे या नहीं।

हाजी अलीम और गुडडू पंडित दोनो ही धनबल और बाहुबल के धनी है। अब ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि आखिर जीत किस को मिलेगी। हालांकि नतीजे तो 11 मार्च हो आयेगें, लेकिन अभी से शहर में हर नुक्कड़ चौराहे पर इस जंग की चर्चाये हो रही है।

बुलंदशहर सदर सीट पर आमने-सामने आए दो बाहुबली

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-