murder_1462770856

बांग्लादेश में मंगलवार की सुबह मोटरसाइकिल सवार तीन अज्ञात हमलावरों ने 65 वर्षीय एक हिंदू पुजारी की हत्या कर दी। जिस समय पुजारी की हत्या की गई, उस समय वह मंदिर जा रहा था। मुस्लिम बहुल बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों और धर्म निरपेक्ष कार्यकर्ताओं पर मुस्लिम चरमपंथियों के नृशंस हमलों की यह ताजा घटना है।

सहायक पुलिस अधीक्षक गोपीनाथ कांजीलाल ने बताया कि झिनाईगाह जिले में सुबह करीब साढ़े नौ बजे तीन हमलावरों ने अनंत गोपाल गांगुली नामक हिंदू पुजारी पर हमला किया और तेज धार वाले हथियारों से उनका गला काट डाला। उन्होंने यह भी कहा कि हत्या उग्रवादियों ने की। गांगुली का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है और घटना की जांच की जा रही है।

बीते कुछ माह में बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों, धर्म निरपेक्ष ब्लॉगरों, बुद्धिजीवियों और विदेशियों पर हमले की घटनाएं बढ़ी हैं। रविवार को एक चर्च के पास अज्ञात हमलावरों ने एक ईसाई उद्योगपति पर हमला कर उसे मार डाला था। इसके कुछ घंटों बाद ही आतंकवाद निरोधक एक पुलिस अधिकारी की पत्नी को धार्मिक चरमपंथियों ने गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया।

अप्रैल में आईएस के उग्रवादियों ने एक उदारवादी प्रोफेसर का राजशाही शहर में स्थित उनके ही घर में गला काटकर नृशंस हत्या कर दी थी। उसी माह एक हिंदू दर्जी को आईएस चरमपंथियों ने उसकी दुकान में ही मार डाला था। आईएस और अलकायदा ने बांग्लादेश में कुछ हमलों की जिम्मेदारी ली है, लेकिन सरकार ने अपने देश में उनकी मौजूदगी से इन्कार किया है।

 

बांग्लादेश में हिंदू पुजारी अनंत गोपाल गांगुली की गला काटकर हत्या

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-