robot_1463444998

रोबोट्स के नौकरियों छीन लेने की बात सच साबित होती नजर आ रही है। चीन में एपल और सैमसंग के उत्पादन करने वाली फॉक्सकॉन ने 60000 कर्मचारियों के बदले रोबोट्स से काम लेना शु‌रू कर दिया है। गौरतलब है कि चीन में फॉक्सकॉन की 12 फैक्‍ट्रियां हैं। एक सरकारी अधिकारी के अनुसार फॉक्सकॉन ने अपने एक लाख दस हजार कर्मचरियों की संख्या साठ हजार घटाकर 50000 कर दी है।

कंपनी ने ये कवायद लेबर कॉस्ट में कमी लाने के उद्देश्य से की है। जानकारों की मानें तो फॉक्सकॉन की इस कवायद से प्रभावित होकर कई और कंपनियां इस तरह के प्रयास कर सकती हैं। कुनशान क्षेत्र में चीन सरकार रोबोट पर भारी निवेश कर रही है। यहां करीब 25 लाख लोग रहते हैं और ज्यादातर किसी इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी में कार्य कर रहे हैं।

फॉक्सकॉन की ओर कंपनी प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया गया है कि वह और फैक्‍ट्रियां को भी ऑटोमेटेड करने के प्रयास में है। हालांकि कंपनी ने इस बात से इंकार किया है कि उसकी इस कवायद से लोगों की नौकरियां जाएंगी। कंपनी का कहना है कि वह सिर्फ बार-बार दोहराए जाने वाले कार्यों के लिए ही रोबोट का इस्तेमाल कर रही है। साथ ही जो कर्मचारी है उनकों वह अन्य कामों में लगाएगी। वह हुमन फोर्स को मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस में रिसर्च, डेवलपमेंट और क्वालिटी कंट्रोल से जोड़ेगी।

फॉक्सकॉन में रोबोट्स ने छीनी 60000 कर्मचारियों की नौकरियां

| देश विदेश | 0 Comments
About The Author
-