प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को रमा बाई अंबेडकर रैली स्थल पर एक बड़ी रैली को संबोधित करेंगे। नोटबंदी के 50 दिन पूरे होने के बाद मोदी की यह पहली बड़ी जनसभा होगी। विधानसभा चुनाव से पूर्व सूबे में भाजपा की यह आखिरी परिवर्तन रैली साबित हो सकती है। पार्टी ने रैली स्थल को अपने कार्यकर्ताओं से भरने के लिए जोरदार तैयारी की है।

भाजपा ने रैली में हर बूथ से अपने कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करने की रणनीति बनाई है। सूबे में पार्टी की करीब सवा लाख बूथ इकाइयां सक्रिय हैं। भाजपा के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने बताया कि रैली में कार्यकर्ता को फोकस में रखा गया है। प्रयास है कि प्रत्येक बूथ के कार्यकर्ता और पूरी बूथ समिति की भागीदारी हो। लेकिन ऐसा नहीं होगा कि किसी बूथ का रैली में प्रतिनिधित्व न हो। कम से कम दो कार्यकर्ता हर बूथ से उपस्थित रहेंगे।

बताते चलें इन कार्यकर्ताओं को पार्टी की ओर से क्षेत्रवार अलग-अलग रंग में प्रवेशिका देने की व्यवस्था की गई है। इससे न सिर्फ हर क्षेत्र की उपस्थिति जांची जा सकेगी बल्कि सुरक्षा के लिहाज से भी एक-एक व्यक्ति पहचान के दायरे में होगा। प्रधानमंत्री जनसभा को संबोधित करने के लिए करीब दो बजे मंच पर पहुंचेंगे। उनके करीब सवा घंटे से अधिक रैली मंच पर उपस्थित रहने की संभावना है।

यूपी के प्रदेश प्रभारी ओम माथुर और प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य रैली की तैयारियों पर सीधे नजर रख रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष मौर्य ने बताया कि  प्रधानमंत्री कीरैली ऐतिहासिक होगी। यहीं से परिवर्तन का बिगुल बजेगा। उन्होंने बताया कि रैली की तैयारियां पूरी हैं। कार्यकर्ताओं का रैली में आने को लेकर जबर्दस्त उत्साह है।

पीएम मोदी आज लखनऊ में परिवर्तन रैली को करेंगे संबोधित

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-