नई दिल्‍ली। समाजवादी पार्टी में चल रहे झगड़े के बीच अब सुलह की कोशिशे तेज हो गई हैं। मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव अपने‍ पिता मुलायम से मिलने पहुंचे और दोनों के बीच 3 घंटे चली बैठक खत्‍म हो गई है। इस बैठक में शिवपाल भी शामिल हुए थे।

बैठक के बाद सूत्रों के हवाले से खबर है कि अखिलेश यादव पिता मुलायम के लिए राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष की कुर्सी छोड़कर प्रदेश अध्‍यक्ष बन सकते हैं वहीं शिवपाल यादव को राष्‍ट्रीय राजनीति में बड़ी जिम्‍मेदारी दी जा सकती है। कहा जा रहा है कि बैठक में टिकट बंटवारे को लेकर भी चर्चा हुई है। हालांकि इसे लेकर अभी कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है।

सोमवार को चुनाव आयोग के सामने साइकिल पर दावा ठोकने के बाद मुलायम सिंह लखनऊ पहुंचे। इसके बाद अखिलेश खेमे की तरफ से रामगोपाल ने मंगलवार सुबह 11.30 बजे चुनाव आयोग के दफ्तर जाकर सपा के चुनाव चिन्‍ह साइकिल पर दावा ठोका। रामगोपाल ने कहा कि 90 प्रतिशत विधायक हमारे साथ हैं अौर पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश हैं इसलिए साइकिल चुनाव चिन्‍ह हमें ही मिलना चाहिए।

मुलायम यूपी में दोपहर में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर सकते हैं। इस बीच आजम खान ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अब भी सब खत्‍म नहीं हुआ है। उन्‍होंने कहा कि अल्‍पसंख्‍यक सपा के साथ हैं और भाजपा को सत्‍ता में आने से रोकना चाहते हैं। अगर कुछ हो सका तो सुलह की कोशिश करेंगे।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि मुलायम का दावा अखिलेश के मुकाबले ठोस है क्‍योंकि रामगोपाल और अखिलेश के निष्‍कासन के बाद पार्टी में जो वापसी हुई थी वो लिखित में उपलब्‍ध नहीं है। ऐसे में वो पार्टी से निष्‍कासित ही माने जाएंगे अौर कोई निष्‍कासित सदस्‍य पार्टी का अधिवेशन बुलाकर इस तरह के निर्णय नहीं ले सकता जैसे रामगोपाल ने लिए।

पिता के लिए राष्ट्रीमय अध्यीक्ष की कुर्सी छोड़कर प्रदेश अध्यरक्ष बन सकते हैं अखिलेश

| उत्तर प्रदेश | 0 Comments
About The Author
-